Advertisement

विपक्षी बल्लेबाजों के लिए बुरे सपने की तरह हैं जडेजा: शास्त्री

नई दिल्ली, 1 मार्च भारत के पूर्व कोच रवि शास्त्री ने भारतीय स्पिनरों की तारीफ की है। उनका मानना है कि रविचंद्रन अश्विन भारत की सर्वकालिक सर्वश्रेष्ठ इलेवन में आसानी से फिट हो जाते हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि

IANS News
By IANS News March 01, 2023 • 17:14 PM
Ravindra Jadeja
Ravindra Jadeja (Image Source: IANS)
Advertisement

नई दिल्ली, 1 मार्च भारत के पूर्व कोच रवि शास्त्री ने भारतीय स्पिनरों की तारीफ की है। उनका मानना है कि रविचंद्रन अश्विन भारत की सर्वकालिक सर्वश्रेष्ठ इलेवन में आसानी से फिट हो जाते हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि रवींद्र जडेजा इसी तरह के काम करने के लिए ट्रैक पर हैं।

अश्विन अपने शानदार 12 साल के अंतर्राष्ट्रीय करियर के दौरान पहले ही 463 टेस्ट विकेट ले चुके हैं और शास्त्री को इसमें कोई संदेह नहीं है कि वह भारत के सर्वकालिक सर्वश्रेष्ठ स्पिनरों में शीर्ष पर हैं।

Trending


शास्त्री ने आईसीसी रिव्यू के एपिसोड में कहा, मैं युगों की तुलना कभी नहीं करता, लेकिन उनका (अश्विन) जो रिकॉर्ड है। विशेष रूप से भारतीय परिस्थितियों में - वह उन्हें (सर्वकालिक एकादश) टीम में शामिल करने के लिए पसंदीदा बना देगा।

उन्होंने कहा, भारतीय परिस्थितियों में वह कुछ और है। मेरा मतलब है, आपने अतीत में कुछ महान स्पिनरों को देखा है। वह उन्हीं में से आते हैं। तथ्य यह है कि वह आपको महत्वपूर्ण चरणों में रन बनाकर देते हैं। इससे बहुत फर्क पड़ता है।

शास्त्री का यह भी मानना है कि जडेजा भारत की सर्वकालिक इलेवन में जगह के लिए बातचीत में अश्विन के साथ शामिल हो सकते हैं। अगर 34 वर्षीय बल्ले और गेंद दोनों से अपने हाल के अच्छे फॉर्म को जारी रख सकते हैं।

बाएं हाथ के हरफनमौला खिलाड़ी ने मौजूदा बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी में बल्ले और गेंद दोनों से शानदार प्रदर्शन किया है। नागपुर में उन्होंने पांच विकेट हासिल किए और शानदार अर्धशतक जमाया। इसके बाद दूसरे मैच में अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी आंकड़ा (7/42) हासिल किया।

उन्होंने कहा, जडेजा को क्रेडिट दिया जाएगा (वह हकदार है)। इसके बारे में कोई सवाल ही नहीं है। पिछले डेढ़ साल में, वह शानदार रहे हैं, क्योंकि उन्हें अपनी क्षमता का एहसास हो गया है।

बाएं हाथ के हरफनमौला खिलाड़ी ने मौजूदा बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी में बल्ले और गेंद दोनों से शानदार प्रदर्शन किया है। नागपुर में उन्होंने पांच विकेट हासिल किए और शानदार अर्धशतक जमाया। इसके बाद दूसरे मैच में अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी आंकड़ा (7/42) हासिल किया।

Also Read: क्रिकेट के अनसुने किस्से

आरजे/आरआर

This story has not been edited by Cricketnmore staff and is auto-generated from a syndicated feed

Advertisement

Cricket Scorecard

Advertisement
Advertisement