Advertisement
Advertisement

WATCH: IPL प्लेयर पॉल वल्थाटी पर टूटा दुखों का पहाड़, बिल्डिंग में आग लगने से बहन और भांजे की मौत

पूर्व आईपीएल खिलाड़ी पॉल वल्थाटी से जुड़ी एक बुरी खबर सामने आ रही है। मुंबई के कांदिवली में एक बिल्डिंग में आग लग गई थी जिससे उनकी बहन और भांजे की मौत हो गई।

Shubham Yadav
By Shubham Yadav October 24, 2023 • 17:19 PM
WATCH: IPL प्लेयर पॉल वल्थाटी पर टूटा दुखों का पहाड़, बिल्डिंग में आग लगने से बहन और भांजे की मौत
WATCH: IPL प्लेयर पॉल वल्थाटी पर टूटा दुखों का पहाड़, बिल्डिंग में आग लगने से बहन और भांजे की मौत (Image Source: Google)
Advertisement

कभी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में धमाल मचाने वाले पॉल वल्थाटी एक बार फिर से सुर्खियों में हैं। वल्थाटी से जुड़ी एक बुरी खबर सामने आई है। हुआ ये कि सोमवार, 23 अक्टूबर को कांदिवली में एक नौ मंजिला इमारत में आग लग गई और जिस समय ये आग लगी उस समय वल्थाटी की बहन और भतीजा भी बिल्डिंग में था जिसके चलते वल्थाटी ने इन दोनों को खो दिया।

गनीमत ये रही कि घटना के दौरान वल्थाटी नीचे थे और उसी इमारत में फंसे अन्य लोगों को बाहर निकाल रहे थे। वल्थाटी की बहन ग्लोरी रॉबर्ट्स और भतीजा जोशुआ ब्रिटेन के निवासी थे। वो भारत आये थए क्योंकि ग्लोरी अपनी बीमार मां से मिलना चाहती थी। जिस समय ये भीषण आग लगी उस समय उनके पति नोएल भी बिल्डिंग में थे। कथित तौर पर उन्होंने अपनी पत्नी और बेटे को नौकरानियों के साथ घर से बाहर जाने के लिए कहा था।

Trending


रॉबर्ट्स चौथी मंजिल पर फ्लैट नंबर 420 और 421 में रहते थे। घटना के समय वाल्थाटी भई परिसर में थे। ताजा जानकारी के मुताबिक, आग फ्लैट नंबर 121 के किचन से लगी थी। रिपोर्टों के अनुसार, ग्लोरी, जोशुआ और नौकरानियां पहली मंजिल तक पहुंच गईं, लेकिन भीषण आग और गर्मी के कारण वो आगे नहीं जा सकीं। उन्होंने छत तक पहुंचने की कोशिश की लेकिन वहां नहीं पहुंच सके। नौकरानियों की हालत गंभीर है जबकि ग्लोरी और जोशुआ अपनी जान गंवा बैठे।

ग्लोरी 43 साल की थीं, जबकि जोशुआ सिर्फ आठ साल के थे। घटना में घायल हुए लोगों की पहचान लक्ष्मी बूरा (40), राजेश्वरी भरतरे (24) के रूप में हुई, जो इस घटना में काफी झुलस गईं। आपको बता देंक कि पॉल वाल्थाटी को आईपीएल के 2011 संस्करण के दौरान प्रसिद्धि मिली थी। उन्होंने चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ शानदार 120 रन बनाए थे, इस सीज़न में उनके बल्ले से 463 रन निकले थे।

Also Read: Live Score

सीएसके के खिलाफ 120 रन की पारी के अलावा, वल्थाटी ने अपनी मध्यम गति की गेंदबाजी से डेक्कन चार्जर्स के खिलाफ चार विकेट भी लिए। आंख की गंभीर चोट सहित कई शारीरिक असफलताओं ने उनकी प्रगति को प्रभावित किया और अंततः वो सिर्फ 23 आईपीएल मैच ही खेल पाए। इस साल की शुरुआत में वल्थाटी ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की थी।

Advertisement

Advertisement