X close
X close

'जीत में बह मत जाना पूरा वर्ल्ड कप बाकी है', PAK को हराने के बाद टीम इंडिया को मिला मैसेज

टीम इंडिया के पास जश्न मनाने के लिए बहुत कम समय था क्योंकि पाकिस्तान को हराने के बाद उन्हें अगले मुकाबले के लिए फ्लाइट पकड़नी थी। टीम इंडिया को अगला मुकाबला नीदरलैंड्स के खिलाफ खेलना है।

Prabhat  Sharma
By Prabhat Sharma October 25, 2022 • 16:18 PM

पाकिस्तान के खिलाफ 23 अक्टूबर को मुकाबला जीतने के आधी रात के बाद टीम इंडिया होटल में पहुंची। सिडनी के लिए सुबह की फ्लाइट पकड़ने के चलते भारतीय टीम के पास जीत का जश्न मनाने तक का समय नहीं था। गुरुवार को नीदरलैंड के खिलाफ टीम इंडिया को वर्ल्डकप का अपना अगला मुकाबला खेलना है। होटल के कर्मचारियों द्वारा रोहित शर्मा एंड कंपनी का गर्मजोशी से स्वागत किया गया। 'कोहली, कोहली' के नारे लगाते हुए फैंस द्वारा टीम इंडिया की बस का स्वागत किया गया।

इसके बाद टीम इंडिया के खिलाड़ी अपने-अपने कमरों में चले गए। कुछ भारतीय खिलाड़ियों ने अपने एड्रेनालाईन के स्तर को कम करने के लिए थोड़ा टहलने के लिए बाहर जाने के बारे में सोचा, लेकिन अपने होटल की खिड़की से झांकने के बाद उन्होंने ये फैसला बदल दिया। देर रात तक लोगों की भीड़ होटल के कमरे के नीचे ही मौजूद थी।

Trending


यह भी पढ़ें: VIDEO: फूट-फूटकर रोने लगे हार्दिक पांड्या, इरफान पठान ने पोछे बहते आंसू

ड्रेसिंग रूम में दिवाली के लिए एक योजना थी। इसके अलावा सिडनी हार्बर में कुछ खिलाड़ियों की पत्नियों और बच्चों सहित पूरे टूर पार्टी के लिए एक भव्य टीम डिनर पर भी खिलाड़ियों में आम सहमति बन गई थी। लेकिन, इसके बाद हेडकोच राहुल द्रविड़ और सीनियर्स ने टीम को बताया कि उन्हें इस जीत के साथ भावनाओं में नहीं बहना नहीं चाहिए और वर्तमान में बने रहना चाहिए।

जब से राहुल द्रविड़ भारतीय टीम के कोच बने हैं उन्होंने इस बात पर जोर दिया है कि टीम को प्रोसेस पर ध्यान देना चाहिए और रिजल्ट को अनुचित महत्व नहीं देना चाहिए। यहां तक ​​कि जीत को लेकर भी भावनाओं में बहना नहीं चाहिए। खेल के बाद टीम मैनेजमेंट की ओर से याद दिलाया गया कि उतार-चढ़ाव के उच्च दबाव वाले इस टूर्नामेंट में टीम को वर्तमान में जीने की जरूरत है ना कि ज्यादा आगे की ओर देखने की।

यह भी पढ़ें: VIDEO: रोहित शर्मा ने विराट कोहली को कंधे पर उठाया, इमोशन नहीं रोक पाए हिटमैन

इंडियन एक्सप्रेस के हवाले से सपोर्ट स्टाफ द्वार सहयोगी स्टाफ को बताया गया, 'मैच के बाद की बैठक में, खिलाड़ियों को आगे बढ़ने और टीम के लॉन्ग टर्म गोल को ध्यान में रखने के लिए कहा गया है। टूर्नामेंट अभी खत्म नहीं हुआ है, इसलिए वर्तमान में ही रहें ज्यादा भावनाओं में ना बहें। खिलाड़ियों को ये बताया गया।'