X close
X close

केएल राहुल से बेहतर ओपनर हो सकते हैं ऋषभ पंत, टॉप-3 में बैटिंग करके रहता है 162 का स्ट्राइक रेट

ऋषभ पंत ने आईपीएल में टॉप ऑर्डर में बैटिंग करते हुए 162 की स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं।

Nishant Rawat
By Nishant Rawat November 16, 2022 • 19:07 PM

इंडियन टीम में बीते समय में विस्फोटक विकेटकीपर बल्लेबाज़ ऋषभ पंत की जगह पर एक प्रश्न चिंह लगा रहा है। इस युवा बल्लेबाज़ को कभी टीम की प्लेइंग इलेवन में जगह मिली है तो कभी उन्हें सिर्फ बेंच गर्म करना पड़ा। लेकिन अब टी-20 वर्ल्ड कप 2022 के बाद शायद इंडियन टीम नए सिरे से शुरुआत करती नज़र आए, इसी को ध्यान में रखते हुए भारतीय टीम के पूर्व क्रिकेटर रॉबिन उथप्पा ने ऋषभ पंत के लिए बेस्ट बैटिंग पॉजिशन का खुलासा किया है। दरअसल रॉबिन उथप्पा का मानना है कि पंत को इंडियन टीम के टॉप ऑर्डर में बल्लेबाज़ी करनी चाहिए।

रॉबिन उथप्पा ने ऋषभ पंत के आईपीएल आंकड़ों को ध्यान में रखकर अपना बयान दिया। वह बोले, 'अगला टी-20 वर्ल्ड कप 2024 में वेस्ट इंडीज और यूएसए में खेला जाएगा। अगर हम वहां की परिस्थितियों को देखते हैं, तो मुझे लगता है कि ऋषभ पंत को टॉप तीन में बल्लेबाजी करनी चाहिए। मुझे लगता है कि उन्हें नंबर तीन पर या फिर ओपनिंग करनी चाहिए।'

Trending


इसी दौरान रॉबिन उथप्पा ने बात करते हुए आगे कहा, 'अगर आप उनके आईपीएल रिकॉर्ड देखें तो उन्होंने टॉप तीन में बल्लेबाजी करते हुए सबसे बेहतर प्रदर्शन किया। अगर कोई खिलाड़ी किसी पॉजिशन पर सफल है और टेस्ट या वनडे क्रिकेट में मैच विनर है तो आपको बिल्कुल उन्हें उस स्थान पर खेलने देना चाहिए। आपको प्रतिभा और क्षमता को निखारना होगा और उसे उस स्थान पर मैच विजेता बनने का मौका देना होगा।'

बन सकते हैं बेहतर ओपनर: आईपीएल में ऋषभ पंत 16 बार टॉप ऑर्डर में बल्लेबाज़ी करने उतरे हैं। इस दौरान बाएं हाथ के विस्फोटक बल्लेबाज़ ने 162 की स्ट्राइक रेट से गेंदबाज़ों की पिटाई करते हुए कुल 486 रन बनाए हैं। ऋषभ पंत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन भी टॉप ऑर्डर में बैटिंग करने के दौरान 97 का रहा। ऐसे में इंडियन टीम में वह सलामी बल्लेबाज़ की भूमिका भी निभा सकते हैं। वह केएल राहुल को रिप्लेस कर सकते हैं।

Also Read: क्रिकेट के अनोखे किस्से

बातचीत करते हुए रॉबिन उथप्पा ने यह भी कहा कि अब शायद ही दिनेश कार्तिक को टी-20 इंटरनेशनल में मौका दिया जाएगा। ऐसे में मैच फिनिशर के तौर पर टीम को दीपक हुड्डा, संजू सैमसन, और राहुल त्रिपाठी को तैयार करना चाहिए। वहीं गेंदबाज़ी में उमरान मलिक और कुलदीप यादव को मौका दिया जाना चाहिए।