X close
X close
Indibet

सुपरनोवाज को 16 रनों से हराकर ट्रेलब्लेजर्स बनीं Womens T20 Challenge 2020 की चैंपियन 

Saurabh Sharma
By Saurabh Sharma
November 09, 2020 • 23:16 PM View: 323

ट्रेलब्लेजर्स ने अपने शानदार हरफनमौला प्रदर्शन के दम पर सोमवार को यहां के शारजाह स्टेडियम में खेले गए फाइनल मुकाबले में दो बार के चैंपियन सुपरनोवाज को 16 रनों से हराते हुए विमेंस टी20 चैलेंज के तीसरे सीजन का खिताब जीत लिया। ट्रेलब्लेजर्स पहली बार चैंपियन बनीं। ट्रेलब्लेजर्स ने टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवरों में 8 विकेट पर 118 रन बनाए। सुपरनोवाज टीम निर्धारित 20 ओवरों में सात विकेट पर 102 रन ही बना सकीं। उसकी ओर से कप्तान हरमनप्रीत कौर ने 30 रनों की पारी खेली।

ट्रेलब्लेजर्स की ओर से सलमा खातून ने सबसे अधिक तीन विकेट लिए। दीप्ति शर्मा को भी दो सफलता मिली। इसके अलावा सोफी एस्लेस्टन ने एक विकेट हासिल किया।

Trending


इस तरह ट्रेलब्लेजर्स ने 2018 के पहले संस्करण के फाइनल में सुपरनोवाज से मिली हार का हिसाब बराबर कर लिया और साथ ही साथ उसे खिताबी हैट्रिक से भी रोक दिया।

सुपरनोवाज की शुरुआत अच्छी नहीं रही। अपने पिछले ही मैच में शानदार अर्धशतक लगाने वाली चमारी अटापट्टू 6 रन बनाकर ही आउट हो गईं। चमारी का विकेट 10 के कुल योग पर गिरा। इसके बाद 30 के कुल योग पर तानिया भाटिया (14) भी पवेलियन लौट गईं।

चमारी को सोफी एसलेस्टन ने आउट किया जबकि तानिया को दीप्ति शर्मा ने अपनी जाल में फंसाया। जेमिमाह रोड्रिग्वेज से बड़ी पारी की उम्मीद थी लेकिन वह भी 13 रनों के निजी योग पर आउट हो गईं। जेमिमाह का विकेट भी दीप्ति ने लिया। जेमिमाह का विकेट 37 के कुल योग पर गिरा।

इसके बाद कप्तान हरमनप्रीत और शशिकला श्रीवर्धने (19) ने चौथे विकेट के लिए 37 रनों की साझेदारी कर टीम को मजबूती प्रदान की और लक्ष्य की ओर अग्रसर किया। शशिकला का विकेट 74 के कुल योग पर गिरा। शशिकला ने 18 गेंदों पर एक चौके लगाया। उनका विकेट सलमा खातून ने लिया।

अब कप्तान का साथ देने अनुजा पाटिल (8) आईं। अंतिम 12 गेंदों में सुपरनोवाज को जीत के लिए 28 रनों की जरूरत थी। दारोमदार कप्तान पर था। सलमा खातून ने हालांकि कप्तान को तो नहीं पर अनुजा को रन आउट कर सुपरनोवाज को पांचवां झटका दिया।

अगली ही गेंद पर सलमा ने इस मैच का सबसे बड़ा विकेट निकालते हुए कप्तान कौर पर आउट कर दिया।

कौर ने 36 गेंदों पर दो चौके लगाए। अब सुपरनोवाज की हार तय थी। नौ गेंदों पर उसे 26 रन चाहिए थे। सलमा यहीं नहीं रूकीं। अपने इसी ओवर में उन्होंने पूजा वस्त्रारकर (0) को आउट कर सुपरनोवाज को सातवां झटका दिया।

राधा यादव 5 और साकेरा सलमान 4 रनों पर नाबाद लौटीं।

इससे पहले, राधा यादव (16-5) की शानदार स्पिन गेंदबाजी के आगे बेदम ट्रेलब्लेजर्स टीम तमाम कोशिशों के बावजूद 118 रन ही बना सकी।

ट्रेलब्लेजर्स के लिए सबसे अधिक 68 रन कप्तान स्मृति मंधाना ने बनाए। मंधाना ने 49 गेंदों का सामना कर पांच चौके और तीन छक्के लगाए। दिएंद्रा डॉटिन के बल्ले से 20 रन निकले।

बाकी कोई बल्लेबाज अपनी क्षमता के साथ न्याय नहीं कर सकी और स्पिन की जाल में ऐसी फंसी कि जो टीम एक समय मजबूत स्कोर की ओर जाती दिख रही थी, वह 20 ओवरों की समाप्ति तक 8 विकेट पर 118 रन ही बना सकी।

अंतिम ओवर राधा यादव ने डाला और इस ओवर में सिर्फ एक रन बना जबकि ट्रेलब्लेजर्स ने इस ओवर में चार विकेट गंवाए। तीन बल्लेबाजों को राधा ने चलता किया जबकि एक रन आउट हुई।

आलम यह था कि डॉटिन और मंधाना ने इस टीम के लिए पहले विकेट के लिए 71 रनों की साझेदारी की। डॉटिन 71 और मंधाना 101 के कुल योग पर आउट हुईं। इसके बाद तो आने और जाने का सिलसिला ऐसा शुरू हुआ कि 120 रन भी बनाना भारी पड़ गया।

सुपरनोवाज के लिए पूनम यादव और शशिकला ने भी एक-एक सफलता हासिल की। राधा महिला टी20 चैलेंज में पांच विकेट हासिल करने वाली पहली गेंदबाज बन गई हैं।


 
Article