X close
X close
Indibet

छोटे से पृथ्वी को आया भयंकर गुस्सा, अंपायर से जमकर करने लगे बहस; देखें VIDEO

रणजी ट्रॉफी 2021-22 के फाइनल में मध्य प्रदेश ने काफी बढ़त बना ली है, जिस वज़ह से मुंबई के कप्तान पृथ्वी शॉ की परेशानियां काफी बढ़ चुकी है।

By Nishant Rawat June 26, 2022 • 10:15 AM

रणजी ट्रॉफी 2021-22 का फाइनल मैच मुंबई और मध्य प्रदेश के बीच बेंगलुरु के चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेला जा रहा है। इस मुकाबले में मध्य प्रदेश की टीम ने यश दुबे, शुभम शर्मा और रजत पाटिदार की शानदार शतकीय पारी के दम पर पहली इनिंग में 536 रन स्कोरबोर्ड पर टांग दिए हैं।इसी बीच मुंबई के कप्तान पृथ्वी शॉ का एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है, जिसमें पृथ्वी काफी गुस्साएं नज़र आ रहे हैं।

इस वायरल वीडियो में पृथ्वी शॉ को अंपायर के फैसले से नाराज देखा जा सकता है, जिस वज़ह से वह काफी देर तक अंपायर के साथ उनके फैसले को लेकर बहसबाज़ी भी करते हैं। हालांकि इन सब के बावजूद अंपायर अपने फैसले को बदलने से इंकार कर देते हैं जिसके बाद मुंबई के खिलाड़ी निराश कप्तान पृथ्वी शॉ वापस फील्डिंग करने अपने साथ ले जाते हैं।

Trending


यह घटना मध्य प्रदेश की पारी के 125वें ओवर की है। मुंबई के लिए यह ओवर मोहित अवस्थी कर रहे थे, वहीं मध्य प्रदेश के लिए आदित्य और रजत पाटिदार बल्लेबाज़ी पर थे। इस ओवर की चौथी गेंद बल्लेबाज़ मोहित अवस्थी के पैड से टकराई जिसके बाद मुंबई के खिलाड़ी काफी जोरदार अपील करते नज़र आए। लेकिन इसके बावजूद अंपायर ने बिना प्रेशर में आए अपना फैसला देते हुए बल्लेबाज़ को नॉन आउट घोषित किया।

अंपायर के फैसले के कारण पृथ्वी शॉ और सरफराज खान हक्के-बक्के रह गए। कप्तान पृथ्वी काफी नाराज थे जिस वज़ह से उन्होंने लंबे समय तक अंपायर के साथ बहसबाजी की। बता दें कि जब घटना का रिप्ले देखा गया तब यह साफ हुआ कि अंपायर का फैसला बिल्कुल सही था और बल्लेबाज़ उस गेंद पर आउट नहीं होता।

गौरतलब है कि फाइनल के दौरान यह पहली घटना नहीं थी तब मुंबई के खिलाड़ी अंपायर के फैसले से असहमत दिखे हो। इससे पहले भी ऐसी घटना सामने आ चुकी है। मैच की बात करें तो मुंबई की टीम ने दूसरी इनिंग की शुरूआत कर दी है और मुकाबले के पांचवें दिन खबर लिखे जाने तक उन्होंने 3 विकेट के नुकसान पर 162 रन बना लिए हैं।


Win Big, Make Your Cricket Prediction Now