X close
X close

'गरीबी के दिनों में टेंट में बितानी पड़ी थी रातें', आकाश चोपड़ा के शो पर बोले यशस्वी जायसवाल

By Prabhat Sharma
Oct 11, 2020 • 18:09 PM

राजस्थान रॉयल्स के युवा बल्लेबाज यशस्वी जायसवाल (Yashasvi Jaiswal) का जीवन काफी संघर्षों से भरा हुआ रहा है। अंडर-19 वर्ल्ड कप में मैन ऑफ द टूर्नामेंट और मुंबई की ओर से लिस्ट ए क्रिकेट में डबल सेंचुरी बनाने वाले इस खिलाड़ी ने अपने बल्लेबाजी के दम पर आईपीएल में अपनी जगह बनाई है।

यशस्वी जायसवाल ने आकाश चोपड़ा के साथ बातचीत की है और अपने दिल से जुड़े कई राज खोले हैं। अपने संघर्ष के दिनों को यादकर यशस्वी जायसवाल ने बताया कि, 'शुरुआती दिनों में मेरे चाचा जी ने दूध की डेयरी पर मेरे रहने का बंदोबस्त कर दिया था लेकिन अचानक उन लोगों ने मेरा बैग डेयरी के बाहर निकाल दिया और कहा कि तुम अब अपना देख लो। उस वक़्त मुझे समझ नहीं आ रहा था कि मैं कहां जाऊं क्योंकि घर से इतनी सुविधा नहीं थी की वह मुझसे कह देते की अलग घर लेकर रह लो।'

Also Read: IPL 2020: डेविड वॉर्नर का संघर्ष, हैदराबाद ने राजस्थान के सामने रखा 159 रनों का लक्ष्य

यशस्वी जायसवाल ने कहा, 'पैसे न हो पाने के चलते मैं काफी टाइम टेंट में रहा वहां पर हालात सही नहीं थे लेकिन ठीक था जब तक मेरा क्रिकेट अच्छा चल रहा था। मेरे दिमाग में उस वक़्त यही रहता था कि मुझे मुंबई और भारत की तरफ से खेलना है।' बता दें कि आईपीएल के इस सीजन में जायसवाल ने 90 की स्ट्राइक रेट से तीन मैचों में महज 40 रन ही बनाए हैं। 

यशस्वी जायसवाल काफी शानदार बल्लेबाज हैं  और उन्होंने अंडर-19 वर्ल्ड कप में भारत की तरफ से खेलते हुए 400 से ज्यादा रन बनाए थे। विश्व कप में शानदार बल्लेबाजी के चलते यशस्वी को मैन ऑफ द टूर्नामेंट चुना गया था। यशस्वी ने विजय हजारे वनडे टूर्नामेंट में झारखंड के खिलाफ 203 रनों की पारी भी खेली थी।