X close
X close
Indibet

30 वर्षीय बल्लेबाज फैज फजल से जुड़ी 10 अनसुनी बातें

Saurabh Sharma
By Saurabh Sharma
May 23, 2016 • 21:35 PM View: 22795

जिम्बाब्वे दौरे के लिए भारत की टीम का चयन हो गया है। सबसे बड़ी खबर टीम के चयन में ये है कि महेंद्र सिंह धोनी जिम्बाब्वे दौरे पर जा रहे हैं और साथ ही सबसे हैरान करने वाली बात ये हैं कि टीम में एक 30 वर्षीय बल्लेबाज फैज फजल को जगह दी गई है। फैज फजल बायें हाथ के बल्लेबाज हैं काफी कम लोगो को पता हैं कि फैज फजल का घरेलू क्रिकेट में काफी शानदार परफॉर्मेंस रहा है यही कारण है कि भारत के चयनकर्ताओं ने फैज फजल को जिम्बाब्वे दौरे के लिए टीम में जगह दी है।

आईए हम यहां आपको बताते हैं फैज फजल से जुड़ी कई ऐसी बातें जो अनसुनी हैं।

Trending


►  फैज याकूब फजल का जन्म 7 सितेम्बर 1985 को नागपुर के महाराष्ट्र में हुआ था।

► साल 2016 के रणजी टॉफी में फैज फजल विदर्भ के तरफ से खेलते हुए सर्वाधिक रन बनानें वाले बल्लेबाज रहे थे। रणजी सीजन 2016 में फैज फजल ने 8 मैच खेलते हुए 39.92 की बल्लेबाजी औसत के साथ 559 रन बनाए हैं।

► अपने पहले ही फर्स्ट क्लास मैच में विदर्भ के तरफ से खेलते हुए शतक जमाया। रणजी टॉफी 2003 में विदर्भ के तरफ से खेलते हुए उन्होंने 151 रन की पारी खेली।

► साल 2004 में फैज फजल ने भारत के अंडर – 19 क्रिकेट टीम में डैब्यू किया। फैज उस समय के अंडर – 19 कप्तान अंबाती रायुडू के नेतृत्व वाली टीम का हिस्सा रहे जिसमें शिखर धवन, रॉबिन उथप्पा, आर पी सिंह और दिनेश कार्तिक जैसे खिलाड़ी भी टीम का हिस्सा थे।

► फ़ैज फ़ज़ल 2004 में बांग्लादेश में आयोजित अंडर-19 वर्ल्डकप में टीम में चुने गए, लेकिन टूर्नामेंट के ठीक पहले उन्हें चोट लग गई थी और उनकी जगह शिखर धवन को टीम में शामिल कर लिया गया था।

► 30 साल के फैज ने फिर भी हिम्मत नहीं हारी और घरेलू टूर्नामेंट में शानदार परफॉर्मेंस करना जारी रखा, फैज ने चैंपियनशिप देवधर ट्रॉफी में अपने लाजबाव बल्लेबाजी से कमाल करते हुए फाइनल में इंडिया “ए”  के तरफ से खेलते हुए शतक जमाया और इंडिया “ए”  को फाइनल जीताने में खास भूमिका निभाई थी।

► देवधर ट्रॉफी में शानदार बल्लेबाजी करने के बाद ईरानी टॉफी 2016 में भी फैज ने अपने बल्ले का जलवा बरकरार रखा औऱ ईरानी ट्रॉफी में ब्रेबोर्न स्टेडियम पर खेले गए फाइनल मैच में फैज ने ऐतिहासिक पारी (127) खेलते हुए करुण नायर के साथ मिलकर रेस्ट ऑफ इंडिया को जीत दिलाई. लक्ष्य का पीछा करते हुए दोनों ने मिलकर 480 रन जैसे बड़े लक्ष्य को हासिल कर लिया था। ईरानी टॉफी के इतिहास में लक्ष्य का पीछा करते हुए हासिल किया गया यह सबसे बड़ी जीत है।

►वर्तामान में फैज इंग्लैंड के घरेलू टूर्नामेंट में खेल रहे हैं और वहां भी अपनी बल्लेबाजी से दर्शकों का दिल खुब जीत रहे हैं। फैज फजल इस वक्त नॉर्थ ईस्ट प्रीमियर लीग प्रीमियर डिवीजन डरहम काउंटी में खेल रहे हैं। फैज फजल हेटॉन लियोन्स क्रिकेट क्लब की टीम का हिस्सा हैं। इस टूर्नामेंट में फैज ने अबतक 2 शतक लगाए हैं, उन्होने पहला शतक व्हितबरन क्रिकेट क्लब के खिलाफ (104 रन) तो और साथ ही दूसरा शतक साउथ नॉर्थम्बरलैंड क्रिकेट क्लब के खिलाफ (108 रन) ठोके हैं।

► फैज फजल ने साल 2014- 15 में दिलीप ट्रॉफी में सेंट्रल जोन के तरफ से खेलते हुए भी कमाल किया। उन्होंने 35.75 की औसत से 143 रन बनाए थे, फैज की शानदार बल्लेबाजी एक अहम कारण रही जिसके कारण सेंट्रल जोन दिलीप ट्रॉफी जीतने में सफल रही।

► साल 2010 और 2011 के आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स की टीम का हिस्सा रहे। लेकिन दुर्भाग्य से वर्तमान में फैज किसी भी आईपीएल टीम का हिस्सा नहीं हैं। आईपीएल के 2 सीजन में खेलते हुए फैज ने 12 मैच में 183 रन बनाए हैं। आईपीएल में फैज का सर्वाधिक स्कोर किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ 45 रन है। आईपीएल 2016 में फैज फजल का बेस प्राइस 10 लाख था लेकिन किसी टीम ने उनको नहीं खरीदा।

► अपने घरेलू क्रिकेट करियर में फैज फजल ने सेंट्रल जोन, इंडिया रेड, इंडिया अंडर -19 , रेलवे और राजस्थान रॉयल्स की टीम का हिस्सा रहे हैं।

► फैज फजल ने टी-20 में 48 मैचों में 896 रन बनाए हैं और उनका बेस्ट 66 रन है। फर्स्ट क्लास करियर में उन्होंने 79 मैचों में 5341 रन बनाए हैं और उनका बेस्ट 200 नाबाद रहा है। उनके नाम 11 शतक और 27 अर्धशतक शामिल हैं।

यहां देखें फैज फजल ने जब आईपीएल 2010 में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ खेली थी शानदार पारी ►


Win Big, Make Your Cricket Prediction Now

Koo
TAGS