X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

3 खिलाड़ी जिन्हें खरीदने के लिए IPL 2020 नीलामी में हो सकती है चेन्नई और मुंबई इंडियंस की टक्कर

by Saurabh Sharma Dec 06, 2019 • 16:19 PM

मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स इंडियन प्रीमियर लीग के इतिहास की दो सबसे सफल टीमें रही हैं। जहां मुंबई ने 4 बार, वहीं चेन्नई की टीमें ने 3 बार ट्रॉफी जीती है। इस साल 19 दिसंबर को कोलताका में आईपीएल 2020 के लिए खिलाड़ियों की नीलामी होनी है। आज हम बात करेंगे उन 3 खिलाड़ियों के बारे में जिन्हें खरीदने को लेकर इन दोनों चैंपियन टीमों के बीच होड़ लग सकती है। 

टॉम बैनटन

मौजूदा समय में एक इंटरनेशनल क्रिकेटर जिसे ज्यादातर आईपीएल टीमें अपने साथ जोड़ना चाहेंगी। वो है इंग्लैंड के 21 साल के विस्फोटक बल्लेबाज टॉम बैनटन। समरसेट के लिए खेलने वाले बैनटन ने आर्कषक बल्लेबाजी और टी-20 ब्लास्ट में अपने प्रदर्शन से सबका दिल जीता है। 

बैनटन ने 2019 में सभी फॉर्मेट में शानदार प्रदर्शन किया है लेकिन टी-20 में अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी से विरोधी टीम को ढेर किया है। इस साल टी-20 ब्लास्ट में विकेटकीपर बल्लेबाज बैनटन ने 161.47 की स्ट्राइक रेट से 549 रन बनाए हैं और इस दौरान उन्होंने कई बेहतरीन शॉट खेले हैं। 

इसके अलावा रॉय लंदन वनडे कप के तीन नॉकआउट मैचों में बैनटन ने एक शतक और दो अर्धशतक जड़े हैं। खबरों के अनुसार मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स ने उनमें काफी रूचि दिखाई है। 


शाहरुख खान

तमिलनाडु के बाएं हाथ के बल्लेबाज शाहरुख खान भारत के घरेलू लिमिटेड ओवर क्रिकेट में एक बेहतरीन फिनिशर के तौर पर उभरे हैं। इसलिए आईपीएल नीलामी में हर टीम की नजरें उनपर होंगी। शाहरुख ने टी-20 और 50 ओवर के क्रिकेट, दोनों ही शानदार प्रदर्शन किया है। 

पिछले कुछ सीजन में उन्होंने तमिलनाडु प्रीमियर लीग में भी लगातार अच्छा प्रदर्शन किया है। शाहरुख ने इस साल विजय हजारे ट्रॉफी में 48.80 की औसत और 125.77 की स्ट्राइक रेट से 244 रन बनाए हैं। 

दो सबसे सफल टीमें मुंबई और चेन्नई उनके रूप में एक फिनिशर को अपने साथ जोड़ना चाहेंगी। वह तमिनलाडु से आते हैं इसलिए चेन्नई उन्हें खरीदना चाहेगी। हालांकि घरेलू क्रिकेट टैलेंड को अपने साथ जोड़ने का मुंबई इंडियंस का इतिहास अच्छा रहा है। 


क्रिस जॉर्डन

ज्यादातर लोग जसप्रीत बुमराह,मिचेल स्टार्क और जोफ्रा आर्चर की डेथ ओवर में गेंदबाजी की बातें करते हैं लेकिन इंग्लैंड के क्रिस जॉर्डन की नहीं। जॉर्डन थोड़े महंगे रहे हैं लेकिन गेंदबाजी के दौरान उनकी यॉर्कर और विविधताओं में एकदम सटीक रहे हैं।  2016 वर्ल्ड टी-20 के बाद जॉर्डन इंग्लैंड के लिए हर मुकाबला खेले हैं और 21.77 की औसत से 36 विकेट अपने खाते में डाले हैं। 

चेन्नई उन्हें खरीदकर अपनी टीम में एक डेथ ओवर गेंदबाजी की कमी पूरा करना चाहेगी, वहीं अगर मुंबई इंडियंस के प्रमुख गेंदबाज चोटिल हो जाते हैं तो वह बेहतरीन बैकअप ऑप्शन साबित हो सकते हैं।