X close
X close
Indibet

मखाया एंटिनी के रिकॉर्ड, रोचक तथ्य और अन्य दिलचस्प जानकारी

Shubham Shah
By Shubham Shah
July 05, 2021 • 13:59 PM View: 293

साउथ अफ्रीका के पूर्व तेज गेंदबाज मखाया एंटिनी दुनिया के बेहतरीन तेज गेंदबाजों में से एक रहे हैं। एंटीनी ने ना सिर्फ साउथ अफ्रीका के लिए कई मैच जीते बल्कि देश में रंगभेद से ऊपर उठकर हर तरह के क्रिकेटरों के लिए भी दरवाजा खोला।

एक नजर डालते है मखाया एंटिनी के कुछ खास व बड़े रिकॉर्ड पर:

Trending


1) एंटिनी का जन्म केप प्रोविंस के डांगी गांव में हुआ था। बॉर्डर क्रिकेट बोर्ड डेवलपमेंट ऑफिसर ने एंटीनी के अंदर क्रिकेट के गुणों को परखा। अधिकारियों ने एंटिनी के अंदर क्रिकेट के लिए उत्साह देखते हुए उन्हें जूता भी दिलवाया।

2) साल 1998 में वो 21 साल की छात्रा के साथ बालात्कार और छेड़छाड़ के लिए दोषी पाए गए। ऐसा लगा था कि एंटीनी अब कभी क्रिकेट नहीं खेल पाएंगे लेकिन साउथ अफ्रीका क्रिकेट बोर्ड ने उन्हें वापसी कराने में अहम भूमिका निभाई।

3) मखाया एंटिनी साउथ अफ्रीका की ओर से खेलने वाले पहले काले क्रिकेटर बने। इसके बाद उन्होंने इंटरनेशनल टीम के लिए कई और खिलाड़ियों की राह खोली।

4) साल 2003 में उन्होंने लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर 10 विकेट हासिल किया। वो इस मैदान पर यह कारनामा करने वाला साउथ अफ्रीका के पहले गेंदबाज बने। इसके बाद एंटीनी का नाम लॉर्ड्स ऑनर बोर्ड पर सुनहरे अक्षरों से लिखा गया।

5) साल 2008 में उन्होंने आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से खेलते हुए हैट्रिक चटकाया। इस दौरान सभी बल्लेबाज एक अनोखे तरीके से आउट हुए। पहला बल्लेबाज को उन्होंने मिडिल स्टंप पर बोल्ड मारा। दूसरे बल्लेबाज को उन्होंने लेग स्टंप पर तथा तीसरे को उन्होंने ऑफ स्ंटप पर। इस तरह यह क्रिकेट इतिहास की अजीबोगरीब हैट्रिक में से एक रही।

6) उन्होंने साउथ अफ्रीका की ओर से टेस्ट क्रिकेट में 20,834 गेंदें फेंकी है। एंटीनी से ज्यादा शॉन पोलाक का नाम आता है जिन्होंने अपने देश के लिए टेस्ट क्रिकेट खेलते हुए 24,353 गेंदें फेंकने का कारनामा किया है।

7) इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद उन्होंने 'मखाया एंटीनी एकेडमी' खोला और इसका लक्ष्य उन्होंने ज्यादा से ज्यादा काले क्रिकेटरों को साउथ अफ्रीका के लिए खेलते हुए देखने का रखा।

8) एंटीनी ने 2 साल तक जिम्बाब्वे के लिए सहायक कोच तथा अंतरिम कोच के रूप में रहे। साल 2018 में उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दिया।

9) रिटायरमेंट के बाद उन्होंने रग्बी कल्ब और कायजर सेफ्स सेवेंस भी संचालित करते है।

10) मखाया एंटिनी ने 101 टेस्ट मैचों में 390 विकेट चटकाए है। इसके अलावा 173 वनडे मैचों में उनके नाम 266 विकेट दर्ज है। 


Win Big, Make Your Cricket Prediction Now

Koo