X close
X close
Indibet

3 खिलाड़ी जो 2021 में भारत के लिए कर सकते हैं अपना डेब्यू

Shubham Shah
By Shubham Shah
January 03, 2021 • 15:06 PM View: 614

घरेलू क्रिकेट में अभी कई ऐसे खिलाड़ी है जिन्होंने अपने प्रदर्शन से सबका दिल जीता है और आने वाले समय में वो नेशनल टीम के दरवाजे पर बहुत जल्द दस्तक दे सकते है।
इनमें से कुछ खिलाड़ियों ने आईपीएल के जरिए सभी का ध्यान अपनी ओर खींचा है तो वहीं कुछ ने घरेलू क्रिकेट में अपने प्रदर्शन से सभी को लुभाया है। ऐसे में आइये आज जानते है ऐसे 3 क्रिकेटरों के नाम को जो साल 2021 में भारत के लिए अपना इंटरनेशनल डेब्यू कर सकते हैं।

1) ईशान किशन

Trending


झारखंड की ओर से अपना घरेलू क्रिकेट खेलने वाले ईशान किशन ने आईपीएल के 13वें सीजन में जमकर रन बरसाया और वो इस सीजन में 516 रन बनाते हुए मुंबई इंडियंस की तरफ से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज थे। ईशान किशन एक विस्फोटक बल्लेबाज होने के साथ-साथ एक बेहतरीन विकेटकीपर भी है।

अभी तक 44 फर्स्ट-क्लास मैचों में ईशान किशन ने 75 पारियों में कुल 2665 रन बनाए हैं जिसमें उनका उच्चतम स्कोर 273 रनों का रहा है। इस दौरान इस युवा बल्लेबाज ने 5 शतक तथा 15 अर्धशतक भी जमाए है।

इसके अलावा ईशान किशन ने 90 टी-20 मैच खेले है जिसमें उनके नाम 2230 रन दर्ज है।

ईशान किशन ने घरेलू मैचों में लगातार अच्छा प्रदर्शन किया है और इसी का नतीजा है कि इन्हें इस साल सयैद मुश्ताक अली ट्रोफी में झारखंड की टीम का कप्तान भी बनाया गया है। अगर ये इसी तरह लगातार अच्छा प्रदर्शन करते है तो इसमें कोई दो राय नहीं है कि इस साल ये भारत के लिए कम से कम लिमिटेड ओवर क्रिकेट के डेब्यू कर लेंगे।


2) सूर्यकुमार यादव

मुंबई इंडियंस के इस बल्लेबाज ने साल 2020 के आईपीएल में अपनी कई बेहतरीन पारियों के लिए खूब सुर्खियां बटोरी है। इस साल वह मुंबई में से तरफ से सूर्यकुमार यादव के बाद ईशान किशन के बाद सबसे ज्यादा रन बनाने वाले दूसरे बल्लेबाज रहे और उन्होंने 16 मैचों में अपनी टीम के लिए कुल 480 रन बनाए। जब ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए भारतीय टीम का ऐलान हुआ तब ऐसे कयास लगाए जा रहे थे कि इस बल्लेबाज को भी भारतीय टीम में जगह मिलेगी लेकिन ऐसा नहीं हो पाया।

आईपीएल के अलावा फर्स्ट क्लास मैचों में सूर्यकुमार यादव का प्रदर्शन शानदार रहा है। उन्होंने इस दौरान 77 मैच खेले हैं जिसमें उनके नाम 5326 रन दर्ज है और इस दौरान इनका उच्चतम स्कोर 200 रनों का रहा है। फर्स्ट क्लास मैच में इस बल्लेबाज के नाम 14 शतक तथा 26 अर्धशतक भी दर्ज है। वहीं अगर टी-20 की बात करें तो सूर्यकुमार यादव ने 165 मुकाबलों में कुल 3492 रन बनाए हैं।

सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी की शुरुआत 10 जनवरी से हो रही है और सूर्य कुमार को मुंबई की टीम का कप्तान नियुक्त किया गया है। इसमें कोई दो राय नहीं है कि अपनी कप्तानी और बल्लेबाजी से यह खिलाड़ी मुंबई को अच्छी तरह संचालित करेगा और इस साल अगर इनका प्रदर्शन ऐसे ही बरकरार रहा तो बहुत जल्द ही हम इन्हें भारतीय टीम में देख सकते हैं।


3) राहुल तेवतिया

किसी भी टीम में ऑलराउंडर का होना टीम को दुगना फायदा पहुंचाता है और राहुल तेवतिया ने यह 2020 के आईपीएल में दिखा दिया कि वह किसी से कम नहीं है। 

तेवतिया वैसे तो साल 2014 से आईपीएल खेल रहे हैं लेकिन इस साल जब उन्होंने एक लीग मुकाबले में किंग्स XI पंजाब के खिलाफ उनके गेंदबाज शेल्डन कॉटरेल के एक ओवर में 30 रन जमाए है तब से वह क्रिकेट दिग्गजों की जुबान पर चढ़ गए है। इसके अलावा इस आईपीएल में उन्होंने कई मैच जिताऊ पारियां खेली है। निचले क्रम में एक अच्छे बल्लेबाज होने के साथ-साथ तेवतिया एक चतुर गेंदबाज भी है।

2020 के आईपीएल में उन्होंने 10 विकेट चटकाए और इस दौरान इनकी इकॉनमी 7 के आसपास रही जो कि टी-20 क्रिकेट में ठीक-ठाक है। इसके अलावा तेवतिया ने 14 मैचों में बल्लेबाजी में भी कमाल दिखाते हुए 255 रन बटोरे। अगर इस साल यह ऐसे ही प्रदर्शन करते हैं तो उन्हें बहुत जल्द भारत की टीम में दाखिला मिल सकता है।


Win Big, Make Your Cricket Prediction Now

Koo