X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

IND vs SA: 5 कारण जिनकी वजह से टीम इंडिया नहीं बना पा रही आखिरी 10 ओवरों में रन, जानिए

by Saurabh Sharma Feb 14, 2018 • 09:13 AM

14 फरवरी, (CRICKETNMORE)। टीम इंडिया ने पोर्ट एलिजाबेथ में खेले गए पांचवें वनडे में मेजबान साउथ अफ्रीका को 73 रनों से हरा दिया। पिछले 25 साल में साउथ अफ्रीका की सरजमीं पर यह भारत की पहली सीरीज जीत है। कोहली एंड कंपनी ने भले ही वनडे सीरीज पर कब्जा कर लिया, लेकिन इस दौरान उनकी एक बहुत बड़ी कमजोरी भी दिखाई पड़ी। टीम इंडिया शानदार शुरुआत के बाद आखिरी के 10 रन बनाने में नाकाम साबित हुई है। आइए जानते हैं अंतिम ओवरों में भारतीय टीम के खराब प्रदर्शन के 5 कारण। 

धोनी का 7वें नंबर पर बल्लेबाजी करना

धोनी खुद के सेट करने में थोड़ा समय लेते हैं। यानी अगर धोनी पांड्या से पहले बल्लेबाजी करने आएगें तो उनको ज्यादा से ज्यादा गेंद खेलने को मिलेंगी और वह पारी को संभालने के साथ-साथ बड़े शॉट्स भी खेलेंगे। जिससे यकीनन भारत को फायदा मिलेगा। इसके अलावा धोनी की जगह अब किसी और किसी खिलाड़ी को फिनिशर की भूमिका निभानी होगी। 

मिडल ऑर्डर बना टीम इंडिया के लिए मुसीबत

इस सीरीज में टीम इंडिया का मिडल ऑर्डर बेरंग दिखाई दिया है। अब तक तीन मैचों में भारत ने पहले बल्लेबाजी की है और तीनों बार टीम के मिडल ऑर्डर बल्लेबाज कुछ खास कमाल नहीं कर पाये हैं। जिसका कारण है बार-बार बल्लेबाजों का बदलना। टीम मैनजमेंट श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, दिनेश कार्तिक, अंजिक्या रहाणे और केदार जाधव को मौका दिया है, लेकिन किसी की जगह पक्की नहीं है।  

सैट बल्लेबाज का अंत तक ना रुकना

चौथे वनडे में शिखर औऱ पांचवें वनडे में रोहित शर्मा ने शतक जड़ा। लेकिन दोनों ने ही उस समय अपना विकेट गवांया जब स्कोरकार्ड को तेजी से आगे बढ़ाने की जरुरत थी। आखिरी 10 ओवरों में एक सैट बल्लेबाज का क्रीज पर रुकना जरुरी है। 

हार्दिक पांड्या का फ्लॉप होना

ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या टेस्ट सीरीज के बाद लगातर फ्लॉप रहे हैं। पांच मैचों में पांड्या को 4 बार बल्लेबाजी करने का मौका मिला जिसमें वह सिर्फ 26 रन बनाए पाए है। पांड्या को अब धोनी की जगह फिनिशर की भूमिका निभाने की जरुरत है। 

कमजोर लोअर ऑर्डर

वनडे में मौजूदा टीम इंडिया का लोअर ऑर्डर कमजोर है। जरुरत पढ़ने पर निचले क्रम के बल्लेबाज रन नहीं निकाल सकते। मुश्किल परिस्थितियों में कुलदीप यादव को दो बार बल्लेबाजी करने का मौका मिला, लेकिन वह नाकाम रहे। 
 

(सौरभ शर्मा/CRICKETNMORE)