Advertisement
Advertisement

अहमदाबाद टेस्ट में अपने शतक पर शुभमन गिल बोले, पता नहीं मुझे ऐसा विकेट कब मिलेगा

भारत के सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल ने कहा है कि वह आस्ट्रेलिया के खिलाफ अहमदाबाद टेस्ट के तीसरे दिन बड़ा स्कोर करने का मौका गंवा नहीं सकते थे। उन्हें यकीन नहीं था कि वह ऐसे विकेट पर फिर कब बल्लेबाजी

IANS News
By IANS News March 12, 2023 • 15:14 PM
Ahmedabad : Indian batter Shubman Gill walks back to the pavilion after his dismissal during the thi
Ahmedabad : Indian batter Shubman Gill walks back to the pavilion after his dismissal during the thi (Image Source: IANS)
Advertisement

भारत के सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल ने कहा है कि वह आस्ट्रेलिया के खिलाफ अहमदाबाद टेस्ट के तीसरे दिन बड़ा स्कोर करने का मौका गंवा नहीं सकते थे। उन्हें यकीन नहीं था कि वह ऐसे विकेट पर फिर कब बल्लेबाजी करेंगे।

गिल तीसरे दिन भारत के लिए स्टार परफॉर्मर रहे। उन्होंने एक अच्छे बल्लेबाजी ट्रैक पर 235 में से 128 रन बनाए, उनका दूसरा टेस्ट शतक और भारत में उनका पहला शतक था। जब वे आउट हुए, तब तक भारत 245 तक पहुंच गया था, जो आस्ट्रेलिया के कुल योग के आधे से अधिक था।

Trending


23 वर्षीय खिलाड़ी टीम से अंदर और बाहर होता रहा है और अंत में इंदौर में चल रही बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के तीसरे टेस्ट में अपनी वापसी की। खराब फॉर्म में चल रहे सलामी बल्लेबाज केएल राहुल की जगह उन्हें शामिल किया गया था।

मैच के बाद बीसीसीआई टीवी पर टीम के साथी चेतेश्वर पुजारा के साथ बातचीत के दौरान, फॉर्म में चल रहे सलामी बल्लेबाज ने अपनी यादगार पारी के बारे में बताया और कहा, ईमानदारी से कहूं, मैं जो सोच रहा था, मुझे नहीं पता कि मुझे इस तरह का कब विकेट मिलेगा। मैं खराब शॉट खेलकर इस मौके को बर्बाद नहीं करना चाहता था। केवल मेरे दिमाग में यही चल रहा था।

उन्होंने कहा, मैं सकारात्मक होने की कोशिश कर रहा था। उन सिंगल्स की तलाश में था और जब हम बल्लेबाजी कर रहे थे तो हम इसी बारे में बात कर रहे थे। बस सकारात्मक रहें और अगर वे खराब गेंद डालते हैं, तो अपने शॉट्स के लिए जाएं।

उन्होंने आगे कहा, मैं स्पिनरों के खिलाफ अच्छा खेल रहा था। मैं तेज गेंदबाजों के खिलाफ थोड़ा परेशानी महसूस कर रहा था। आपको इसे संतुलित करना होगा और मैं यही करने की कोशिश कर रहा था।

कप्तान रोहित शर्मा के तीसरे दिन 35 रन पर आउट होने के बाद गिल और पुजारा ने दूसरे विकेट के लिए 113 रन जोड़े और भारत को मैच में अपनी स्थिति मजबूत करने में मदद की।

उन्होंने आगे कहा, मैं स्पिनरों के खिलाफ अच्छा खेल रहा था। मैं तेज गेंदबाजों के खिलाफ थोड़ा परेशानी महसूस कर रहा था। आपको इसे संतुलित करना होगा और मैं यही करने की कोशिश कर रहा था।

Also Read: क्रिकेट के अनसुने किस्से

Advertisement

Cricket Scorecard

Advertisement
Advertisement