X close
X close
Indibet

THE HUNDRED : 'वो खड़ा रहा, वो लड़ता रहा और आखिरकार अपनी टीम को जीता दिया'

Shubham Sharma
By Shubham Sharma
July 27, 2021 • 01:59 AM View: 3521

वो कहते हैं ना कि अगर आप का दिन अच्छा ना जा रहा हो, तो हड़बड़ी ना करके सब्र करें और अपनी बारी का इंतज़ार करें और यकीन मानिए अंत में आप जैसा चाहते हैं वैसा ही होगा। ये सब बातें इंग्लैंड के क्रिकेटर एलेक्स हेल्स पर पूरी फिट बैठती हैं जिन्होंने अकेले दम पर द हन्ड्रेड लीग में अपनी टीम को जीत दिला दी।

जी हां, पारी की शुरुआत में ट्रेंट रॉकेट्स की टीम के इस सलामी बल्लेबाज के बल्ले से गेंद भी बड़ी मुश्किल से लग रही थी और दूसरे छोर से किसी भी बल्लेबाज का साथ नहीं मिल रहा था लेकिन फिर भी हेल्स क्रीज पर टिके रहे, संघर्ष करते रहे और अंत में अपनी टीम को मैच जितवा कर ही मैदान से बाहर निकले।

Trending


हेल्स ने 34 गेंदों पर 40 रनों की पारी खेली। इस दौरान उन्होंने 2 चौके और 3 छक्के भी लगाए। हालांकि, अगर हेल्स की पारी की आखिरी तीन-चार गेंदों को हटा दें, तो वो 100 से भी कम के स्ट्राइक रेट से बल्लेबाज़ी कर रहे थे और हर गेंदबाज़ के सामने संघर्ष कर रहे थे लेकिन रॉकेट्स के लिए अच्छी बात ये थी कि हेल्स ने पैनिक बटन नहीं  दबाया और दबाव में खराब शॉट नहीं खेला।

हेल्स ने अंत में बेन स्टोक्स को भी एक बड़ा छक्का लगाया और इससे पहले स्टोक्स ने ही उनका आसान सा कैच छोड़ा था जिसका खामियाजा उनकी टीम नॉर्दर्न सुपरचार्जर्स को हार के साथ भुगतना पड़ा। हेल्स की शानदार पारी की बदौलत उनकी टीम 2 विकेट से जीतने में सफल रही और अगर ये मैच रॉकेट्स की टीम हार जाती तो हेल्स को इस मैच का हीरो नहीं बल्कि विलेन कहा जाता क्योंकि वो शुरू से ही संघर्ष कर रहे थे और काफी गेंदें खेल चुके थे। 


Win Big, Make Your Cricket Prediction Now

Koo