X close
X close

चेतन शर्मा ने दिया इस्तीफा, एक स्टिंग ऑपरेशन ने कर दिया बर्बाद

बीसीसीआई के चीफ सेलेक्टर चेतन शर्मा ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने अपना इस्तीफा जय शाह को भेज दिया है और जय शाह ने इसे मंजूर भी कर लिया है।

Shubham Yadav
By Shubham Yadav February 17, 2023 • 11:21 AM

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के चीफ सेलेक्टर चेतन शर्मा ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। एक टेलीविजन स्टिंग ऑपरेशन के बाद चेतन शर्मा की जिंदगी पूरी तरह से बदल चुकी है और अब वो बीसीसीआई के चीफ सेलेक्टर नहीं हैं। उन्होंने स्टिंग ऑपरेशन के बाद अपने पद से इस्तीफा दे दिया है औऱ जय शाह नेउनका इस्तीफा मंजूर कर लिया है।

बीसीसीआई ने लगभग 40 दिन पहले ही चेतन शर्मा को दोबारा चयन समिति का अध्यक्ष बनाया था लेकिन दोबारा चीफ सेलेक्टर बनना उन्हें रास नहीं आया और अब एक घटना ने उनकी पूरी जिंदगी को बदल दिया है। चेतन शर्मा के इस्तीफे के बाद अगला चीफ सेलेक्टर कौन होगा फिलहाल इस बारे में कोई अपडेट नहीं है लेकिन चेतन शर्मा की छुट्टी के बाद बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी के आखिरी दो टेस्ट और वनडे सीरीज के लिए चयन समिति की बैठक अब अनिश्चितता की स्थिति में है।

Trending


अभी कुछ ही दिन पहले चेतन शर्मा का एक बड़ा स्टिंग ऑपरेशन हुआ था जिसमें उन्होंने बड़े खुलासे किए और इन खुलासों ने भारतीय क्रिकेट में भूचाल सा ला दिया। चेतन ने इस स्टिंग ऑपरेशन में ये बात कूृबूली कि खिलाड़ी फिट नहीं होते थे तो वो खेलने के लिए इंजेक्शन लेते हैं। वो 80 फीसदी फिटनेस पर भी खेलने को तैयार होते हैं। वो इंजेक्शन लेते हैं और खेलना शुरू कर देते हैं।

चेतन शर्मा ने अपने खुलासे में कहा कि मैं पेनकिलर के बारे में नहीं इंजेक्शन के बारे में बात कर रहा हूं। अगर वो पेनकिलर लेते हैं तो वो डोपिंग में आ जाएगा। टीम इंडिया के खिलाड़ी इस बात से वाकिफ हैं कि डोपिंग रोधी में कौन से इंजेक्शन आते हैं। जसप्रीत बुमराह झुकने में असमर्थ थे क्योंकि उन्हें एक बड़ी चोट लगी थी, इसके अलावा एक या दो खिलाड़ी हैं जो निजी तौर पर इंजेक्शन लेते हैं और कहते हैं कि वे खेलने के लिए फिट हैं।'

Also Read: क्रिकेट के अनसुने किस्से

इसके अलावा चेतन ने विराट कोहली और सौरव गांगुवी को लेकर भी खुलासा किया और बताया कि विराट को लगा कि बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली की वजह से उन्हें कप्तानी गंवानी पड़ी है। चयन समिति की वीडियो कांफ्रेंस में 9 लोग थे, सौरव गांगुली ने उनसे कहा था कि 'इस बारे में एक बार सोच लो'। मुझे लगता है कि विराट कोहली ने इस बात को नहीं सुना। वहां 9 अन्य लोग थे जिनमें मैं और अन्य सभी चयनकर्ता, बीसीसीआई अधिकारी शामिल थे। कोहली ने शायद उन्हें नहीं सुना होगा।'