X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

ENGvIRE: इंग्लैंड ने दूसरे वनडे में आयरलैंड को 4 विकेट से हराया,ये बना मैन ऑफ द मैच

By Saurabh Sharma Aug 02, 2020 • 09:32 AM

साउथैम्पटन, 2 अगस्त | सैम बिलिंग्स और डेविड विले ने मध्य क्रम की विफलता से इंग्लैंड को बाहर निकालते हुए उसे शनिवार रात आयरलैंड के खिलाफ खेले गए दूसरे वनडे मैच में चार विकेट से जीत दिला दी। आयरलैंड द्वारा रखे गए 213 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड ने एक समय अपने छह विकेट पर 137 रनों पर ही खो दिए थे। यहां से बिलिंग्स और विले ने सातवें विकेट के लिए 79 रनों की साझेदारी कर टीम को 32.3 ओवरों में टीम को लक्ष्य तक पहुंचा दिया और तीन मैचों की वनडे सीरीज में उसे 2-0 की अजेय बढ़त दिलाई।

इन दोनों से पहले अपनी तूफानी पारी के लिए मैन ऑफ द मैच चुने गए जॉनी बेयरस्टो ने आयरलैंड को परेशान कर रखा था। उन्होंने 41 गेंदों पर 14 चौके और दो छक्कों की मदद से 82 रन बनाए।

ये भी पढ़ें: CPL 2020 के लिए ट्रिनबागो नाइट राइडर्स ने ड्वेन ब्रावो को हटाकर इसे बनाया नया कप्तान

इन तीनों ने मिलकर अपना दूसरा अंतर्राष्ट्रीय मैच खेल रहे कर्टिस कैम्पर के लगातार दूसरे अर्धशतक पर पानी फेर दिया। कैम्पर ने पिछले मैच में जो उनका पदार्प मैच था, में भी अर्धशतक जमा टीम को सस्ते में सिमटने से बचाया था और दूसरे मैच में भी उन्होंने 68 रनों की पारी खेल एक बार फिर टीम को कम स्कोर पर ऑल आउट होने से बचा लिया। उन्हीं के दम पर आयरलैंड 50 ओवरों में नौ विकेट खोकर 212 रनों का स्कोर खड़ा करने में सफल रही।

उन्होंने गेंद से भी कमल दिखाया और अहम समय पर दो विकेट विकेट लेकर इंग्लैंड को दबाव में ला दिया।

इंग्लैंड ने पारी की तीसरी गेंद पर ही जेसन रॉय को खो दिया। वह बिना खाता खोले आउट हुए। बेयरस्टो एक छोर से ताबड़तोड़ बल्लेबाजी कर रहे थे। दूसरे छोर के बल्लेबाज उन्हें स्ट्राइक दे कर अपना काम कर रहे थे। कैम्पर ने पहले जेम्स विंसे (16) को 71 के कुल स्कोर और फिर टॉम बेंटन (15) को आउट कर इंग्लैंड का स्कोर तीन विकेट के नुकसान पर 98 रन कर दिया।

कैम्पर के बाद जोश लिटिल ने तीन विकेट ले इंग्लैंड पर हार का खतरा खड़ा कर दिया। लिटिल ने पहले बेयरस्टो को 131 के कुल स्कोर पर आउट किया और फिर मोइन अली तथा कप्तान इयोन मोर्गन को 137 के कुल स्कोर पर बिना खाता खोले पवेलियन भेज इंग्लैंड को हार की तरफ धकेलने का प्रयास किया।

बिलिंग्स और विले ने हालांकि मेजबान टीम को हार से बचा लिया और जीत दिला सीरीज मे बढ़त दिला दी।

इससे पहले, आयरलैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। आयरलैंड को 212 के स्कोर तक पहुंचाने में कैम्पर के कलावा उसके निचले क्रम ने भी बड़ा योगदान दिया।

91 रनों पर ही अपने छह विकेट खोने के बाद आयरलैंड संकट में थी। यहां से कैम्पर और सिमी सिंह (25) ने सातवें विकेट के लिए 60 रनों की साझेदारी की।

इसके बाद एंडी मैक्ब्राइन के साथ कैम्पर ने आठवें विकेट के लिए 56 रनों की साझेदारी कर 200 के पार पहुंचाया। 207 के कुल स्कोर पर हालांकि कैम्पर, साकिब महमूद का शिकार हो गए। उन्होंने अपनी पारी में 87 गेंदों का सामना किया और आठ चौके मारे। रीसी टॉप्ले ने मैक्ब्राइन को आउट कर आयरलैंड को नौवां झटका दिया। मैक्ब्राइन का विकेट पारी की आखिरी गेंद पर गिरा। उन्होंने 24 गेंदों पर दो चौकों की मदद से 24 रन ही बनाए। क्रेग यंग दो रन बनाकर नाबाद लौटे।

इंग्लैंड के लिए आदिल राशिद ने तीन विकेट लिए। डेविड विले और साकिब महमूद ने दो-दो विकेट चटकाए। टॉप्ले और जेम्स विंसे को एक-एक विकेट मिला।