X close
X close

एमएस धोनी ने मुझे फाइनल में बोला था, 'तुम सेंचुरी बनाओ, मैं रनरेट देख लूंगा'

गौतम गंभीर अक्सर 2011 वर्ल्ड कप फाइनल को लेकर कोई ना कोई खुलासा करते रहते हैं लेकिन इस बार उन्होंने एमएस धोनी को लेकर खुलासा किया है।

Shubham Yadav
By Shubham Yadav January 11, 2023 • 14:16 PM

भारत ने 2011 वर्ल्ड कप फाइनल में श्रीलंका को हराकर अपनी ही सरज़मीं पर विश्व कप जीतकर इतिहास रचा था। इस वर्ल्ड कप फाइनल में टीम इंडिया को जीत दिलाने में कप्तान एमएस धोनी और सलामी बल्लेबाज़ गौतम गंभीर ने अहम भूमिका निभाई थी। गौतम गंभीर अक्सर इस फाइनल से जुड़े कई किस्सों के बारे में बात करते रहते हैं लेकिन इस बार गौतम गंभीर ने खुलासा किया है कि कप्तान एमएस धोनी ने उन्हें फाइनल में शतक बनाने के लिए प्रोत्साहित किया था।

श्रीलंका द्वारा 275 रन का लक्ष्य निर्धारित करने के बाद, भारत ने सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग का विकेट दूसरी ही गेंद पर खो दिया था। लसिथ मलिंगा ने कुछ ओवर बाद सचिन तेंदुलकर को सिर्फ 18 रन पर आउट कर दिया था। इसके बाद गंभीर ने युवा विराट कोहली के साथ मिलकर तीसरे विकेट के लिए 83 रन की साझेदारी की और इसके बाद धोनी के साथ 109 रनों की साझेदारी करके मैच भारत को जितवा दिया था।

Trending


हालांकि, गंभीर अपना शतक पूरा नहीं कर पाए और 97 रन बनाकर आउट हो गए। हालांकि, अब गंभीर ने खुलासा किया है कि उनकी धोनी के साथ पार्टनरशिप कके दौरान धोनी ने उन्हें शतक पूरा करने के लिए कई बार कहा। गुवाहाटी में भारत और श्रीलंका के बीच पहले वनडे मैच के दौरान स्टार स्पोर्ट्स से बात करते हुए, गंभीर ने कहा, “उस दौरान एमएस धोनी बहुत मददगार थे क्योंकि वो चाहते थे कि मैं शतक बनाऊं। वो हमेशा चाहते थे कि मैं शतक बनाऊं। उन्होंने मुझे ओवरों के बीच में भी कहा कि 'अपना शतक बनाओ, अपना समय लो और इसमें जल्दबाजी मत करो। अगर जरूरत पड़ी तो मैं रनरेट में तेजी ला सकता हूं।'

Also Read: SA20, 2023 - Squads & Schedule

हालांकि, धोनी की सलाह का उस समय गंभीर पर कोई असर नहीं पड़ा और अंततः वो 97 रन पर आउट हो गए और उनके आउट होने के बाद युवराज सिंह ने बाद में फिनिशिंग टच दिया। वहीं, गंभीर के बाद धोनी ने भी नाबाद 91 रनों की पारी खेली और लांग ऑन के ऊपर से विजयी छक्का लगाकर भारत को छह विकेट से जीत दिला दी।