X close
X close

5 खिलाड़ी जिनको उपलब्धियों के हिसाब से नहीं मिला क्रेडिट, लिस्ट में 2 भारतीय शामिल

इस लिस्ट में 2 भारतीय दिग्गज खिलाड़ी का नाम भी शामिल है जिन्हें उनकी उपलब्धियों के हिसाब से उतना क्रेडिट नहीं मिला जितना क्रेडिट वो डिजर्व करते थे।

Prabhat  Sharma
By Prabhat Sharma September 13, 2022 • 17:24 PM

5 ऐसे क्रिकेटर्स जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में अपने खेल से फैंस को काफी प्रभावित किया। बावजूद इसके उन्हें उनकी उपलब्धियों के हिसाब से उतना क्रेडिट नहीं मिला जितना क्रेडिट वो डिजर्व करते थे। गौर करने वाली बात ये है कि इस लिस्ट में 2 भारतीय दिग्गज खिलाड़ी का नाम भी शामिल है।

गौतम गंभीर: भारत को 2007 और 2011 वर्ल्ड कप में मिली जीत के फाइनल मैच के हीरो गौतम गंभीर ही थे। गौतम गंभीर को कभी भी उतना क्रेडिट नहीं मिला जितना वो डिजर्व करते थे। गौतम गंभीर ने भारत के लिए 58 टेस्ट 147 वनडे और 37 टी-20 मैच खेले।

Trending


रॉस टेलर: जब-जब न्यूजीलैंड टीम का जिक्र होता है तब-तब ब्रेंडन मैकुलम और केन विलियमसन का जिक्र होता है। हालांकि, न्यूजीलैंड के दिग्गज बल्लेबाज रॉस टेलर भी ब्रेंडन मैकुलम और केन विलियमसन के कैलिबर के ही रहे बावजूद इसके उन्हें इतना फेम नहीं मिला। टेलन ने न्यूजीलैंड के लिए 112 टेस्ट, 236 वनडे और 102 टी-20 मैच खेले।

हाशिम अमला: साउथ अफ्रीका के दिग्गज खिलाड़ी हाशिम अमला का नाम भी इस लिस्ट में शामिल है। हाशिम अमला ने इंटरनेशनल क्रिकेट में तो अपना लोहा मनवाया ही लेकिन, आईपीएल में उनके शानदार प्रदर्शन के बावजूद उन्हें ज्यादा आईपीएल मैच नहीं मिले। हाशिम अमला ने 16 आईपीएल मैचों में 44.38 की औसत और 141.77 के स्ट्राइक रेट से 577 रन बनाए।

जवागल श्रीनाथ: इस गेंदबाज के बारे में ये बात कही जाती थी कि जवागल श्रीनाथ ने अकेले अपने दमपर पर टीम इंडिया को तमाम मैच जितवाए। जवागल श्रीनाथ के आकड़ें इस बात की गवाही भी देते हैं। जवागल श्रीनाथ ने भारत के लिए 67 टेस्ट मैच में 236 विकेट लिए वहीं 229 वनडे में श्रीनाथ के नाम 315 विकेट दर्ज हैं।

यह भी पढ़ें: 3 खिलाड़ी जिनको ना चुनकर रोहित शर्मा से हो गई बड़ी भूल, हार सकते हैं टी-20 वर्ल्ड कप

मोहम्मद यूसुफ: पाकिस्तान के लिए 90 टेस्ट में 52.29     की औसत से 7530 रन और 288 वनडे मैचों में 9720 रन बनाने वाले मोहम्मद यूसुफ ने पाक टीम के लिए कई मैच जिताऊ पारी खेली। हालांकि, कभी भी उन्हें उतना क्रेडिट नहीं मिला जितना वो डिजर्व करते थे।