Advertisement
Advertisement

हरभजन सिंह ने Vice Captain राहुल को ही प्लेइंग इलेवन से निकाला, कहा- 'रहाणे भी तो उप कप्तान थे'

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ नागपुर टेस्ट में टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन को लेकर अभी तक तस्वीर साफ नहीं है लेकिन इसी बीच हरभजन सिंह ने एक बड़ा कॉल लेने का सुझाव दिया है।

Shubham Yadav
By Shubham Yadav February 08, 2023 • 12:24 PM
Cricket Image for हरभजन सिंह ने Vice Captain राहुल को ही प्लेइंग इलेवन से निकाला, कहा- 'रहाणे भी तो
Cricket Image for हरभजन सिंह ने Vice Captain राहुल को ही प्लेइंग इलेवन से निकाला, कहा- 'रहाणे भी तो (Image Source: Google)
Advertisement

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मैच 9 फरवरी से नागपुर में खेला जाना है। इस टेस्ट सीरीज के आगाज से पहले दोनों टीमें अपनी कमर कस चुकी हैं लेकिन भारतीय टीम अभी भी अपनी प्लेइंग इलेवन को लेकर दुविधा में है। हालांकि, इसी बीच पूर्व भारतीय क्रिकेटर हरभजन सिंह ने भारतीय टीम मैनेजमेंट को एक बड़ा फैसला लेने की सलाह दी है।

भज्जी ने भारत के उप-कप्तान केएल राहुल को बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी के पहले टेस्ट से बाहर कर दिया है। भज्जी का मानना है कि श्रेयस अय्यर की गैरमौजूदगी में सूर्यकुमार यादव को टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण करना चाहिए। इसके साथ ही भज्जी ये भी चाहते हैं कि फॉर्म में चल रहे शुभमन गिल टीम इंडिया के लिए रोहित शर्मा के साथ ओपनिंग करें ऐसे में भज्जी ने उप कप्तान राहुल को बाहर बिठाने की सलाह दी है। 

Trending


एक न्यूज़ चैनल से बातचीत के दौरान हरभजन ने कहा, “यदि आप किसी को नंबर 5 पर खेलने का मौका देना चाहते हैं, तो सूर्यकुमार यादव से बेहतर कोई विकल्प नहीं है। अगर कोई स्पिन को बेहतर तरीके से खेलता है तो वो सूर्या है। उसके पास स्वीप शॉट है और स्पिनरों के खिलाफ अच्छे से कदमों का इस्तेमाल भी करता है। सूर्या जब रणजी में खेलता है तो वो मध्य क्रम में खेलता है। उसे उसके स्थान पर मौका दिया जाना चाहिए।"

Also Read: क्रिकेट के अनसुने किस्से

आगे बोलते हुए भज्जी ने कहा, “केएल जिस तरह से बल्लेबाजी करता है वो मुझे पसंद है। इसमें कोई संदेह नहीं है कि वो एक गुणवत्तापूर्ण बल्लेबाज है लेकिन मौजूदा समय में अगर शुभमन गिल नहीं खेलते हैं तो वो कब खेलेंगे? अजिंक्य रहाणे भी पहले उपकप्तान थे। कई उपकप्तान ऐसे थे जो टीम में नहीं हैं। टीम हमेशा पहली प्राथमिकता होती है फिर कोई व्यक्ति आता है। राहुल द्रविड़ इस बात से सहमत होंगे कि उन्हें टेस्ट सीरीज़ से पहले खिलाड़ियों को रणजी ट्रॉफी खेलने के लिए भेजना चाहिए था। चार दिवसीय क्रिकेट खेलने के बाद खिलाड़ी टेस्ट मैचों में खुद को ढाल सकते थे।”

Advertisement

Cricket Scorecard

Advertisement
Advertisement