Advertisement

श्रीसंत को थप्पड़ मारने के 14 साल बाद बोले हरभजन सिंह, ‘मैं शर्मिंदा था’ 

पूर्व भारतीय क्रिकेटर हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) ने 2008 में इंडियन प्रीमियर लीग (घझथ) के उद्घाटन सीजन के दौरान हुई 'थप्पड़' घटना के लिए एस. श्रीसंत (Sreesanth) से माफी मांगी है। हरभजन तब कप्तान सचिन तेंदुलकर...

IANS News
By IANS News June 05, 2022 • 14:34 PM
श्रीसंत को थप्पड़ मारने के 14 साल बाद बोले हरभजन सिंह, ‘मैं शर्मिंदा था’ 
श्रीसंत को थप्पड़ मारने के 14 साल बाद बोले हरभजन सिंह, ‘मैं शर्मिंदा था’  (Image Source: Twitter)
Advertisement

पूर्व भारतीय क्रिकेटर हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) ने 2008 में इंडियन प्रीमियर लीग (घझथ) के उद्घाटन सीजन के दौरान हुई 'थप्पड़' घटना के लिए एस. श्रीसंत (Sreesanth) से माफी मांगी है। हरभजन तब कप्तान सचिन तेंदुलकर की अनुपस्थिति में किंग्स इलेवन पंजाब (पंजाब किंग्स) के खिलाफ मैच में मुंबई इंडियंस का नेतृत्व कर रहे थे।

हरभजन द्वारा थप्पड़ मारे जाने के बाद भावुक श्रीसंत की तस्वीरें देखकर इस घटना को लाइव देखने वाले लोग हैरान रह गए।

Trending


शनिवार को हरभजन और श्रीसंत के साथ ग्लांस लाइव फेस्ट में विक्रम साठे के साथ एक वीडियो चैट में शामिल हुए और खुलासा किया कि वह इस घटना के बारे में कितना 'शर्मिदा' महसूस कर रहे थे।

उन्होंने आगे कहा, "जो हुआ वह गलत था। मैंने गलती की। मेरी वजह से मेरी टीम के साथी को शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा। मैं शर्मिदा था। अगर मुझे एक गलती सुधारनी पड़ी, तो मैंने मैदान पर श्रीसंत के साथ ऐसा व्यवहार किया। ऐसा नहीं होना चाहिए था। जब मैं इसके बारे में सोचता हूं तो मुझे लगता है कि इसकी कोई जरूरत नहीं थी।"

दोनों क्रिकेटर बाद में 2011 विश्व कप विजेता भारत की टीम का हिस्सा थे। हरभजन ने भारत के लिए 367 अंतरराष्ट्रीय मैचों में कुल 711 विकेट झटके, जबकि श्रीसंत ने 90 अंतरराष्ट्रीय मुकाबलों में 169 विकेट लिए हैं।
 

Advertisement

Cricket Scorecard

Advertisement
Advertisement