Advertisement

IND vs ZIM 3rd T20I: 5 खिलाड़ी जो अकेले दम पर पलट सकते हैं मैच का रुख

भारत और जिम्बाब्वे के बीच तीसरा टी-20 मैच आज यानि 10 जुलाई को हरारे के मैदान पर खेला जाएगा। आइए आपको उन पांच खिलाड़ियों के बारे में बताते हैं जो मैच का रुख पलट सकते हैं।

Shubham Yadav
By Shubham Yadav July 10, 2024 • 11:54 AM
IND vs ZIM 3rd T20I: 5 खिलाड़ी जो अकेले दम पर पलट सकते हैं मैच का रुख
IND vs ZIM 3rd T20I: 5 खिलाड़ी जो अकेले दम पर पलट सकते हैं मैच का रुख (Image Source: Google)
Advertisement

जिम्बाब्वे और भारत के बीच पांच मैचों की टी-20 सीरीज का तीसरा मैच 10 जुलाई, बुधवार को हरारे में खेला जाएगा। दोनों ही टीमें तीसरा  टी-20 मैच जीतकर सीरीज में बढ़त बनाने के इरादे से मैदान में उतरेंगी। इस आर्टिकल में हम बात करेंगे उन पांच खिलाड़ियों की जो अकेले दम पर मैच का रुख पलटने का माद्दा रखते हैं।

1. अभिषेक शर्मा- अपने डेब्यू मैच में ज़ीरो पर आउट होने वाले अभिषेक शर्मा ने अपने दूसरे ही टी20 इंटरनेशनल में शतक जड़कर दिखा दिया कि वो इस स्तर पर खेलने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। अभिषेक ने सिर्फ 46 गेंदों में शतक जड़कर इतिहास के पन्नों में अपना नाम दर्ज करवा दिया। अपनी इस पारी के दौरान उन्होंने जिम्बाब्वे के हर गेंदबाज की पिटाई की और बता दिया कि वो किस क्लास के प्लेयर हैं। आईपीएल 2024 में भी अभिषेक कमाल के फॉर्म में थे और उन्होंने टी-20 इंटरनेशनल में भी अपने इस फॉर्म को जारी रखा है। ऐसे में पिच और गेंदबाजी आक्रमण को बखूबी परख चुके अभिषेक को रोकना तीसरे टी-20 इंटरनेशनल में भी जिम्बाब्वे के लिए मुश्किल काम होगा।

Trending


2. रुतुराज गायकवाड़- जिम्बाब्वे के खिलाफ दूसरे टी20 इंटरनेशनल में भारत की 100 रनों से जीत में रुतुराज गायकवाड़ का भी अहम योगदान था। उन्होंने अंत तक नाबाद रहते हुए 47 गेंदों में 77 रनों की धमाकेदार पारी खेली थी। इस दौरान गायकवाड़ पूरे कंट्रोल में नजर आए और जब टीम को बड़े शॉट्स की जरूरत थी उन्होंने अपनी टीम के लिए जोखिम भी उठाए। इस पारी के बाद गायकवाड़ को बाकी बचे तीन मैचों में भी रोकना जिम्बाब्वे के लिए आसान नहीं होगा क्योंकि हम आईपीएल में भी देख चुके हैं कि अगर गायकवाड़ एक अच्छी पारी खेलते हैं तो वो लगातार अच्छे फॉर्म में रहते हैं।

3. सिकंदर रजा- अभी तक हुए दोनों मैचों में जिम्बाब्वे की बल्लेबाजी फ्लॉप साबित हुई है। इक्का-दुक्का अच्छी पारियों को छोड़ दें तो जिम्बाब्वे के बल्लेबाज़ संघर्ष ही करते हुए दिखे हैं। ऐसे में अगर जिम्बाब्वे को भारत को टक्कर देनी है तो उनके कप्तान सिकंदर रजा का बल्ले से चलना जरूरी होगा क्योंकि अगर रज़ा का बल्ला चला तो जिम्बाब्वे की टीम भारत को टक्कर दे सकती है। रज़ा ही इस टीम में ऐसे बल्लेबाज़ हैं जिनके पास बेशुमार अनुभव है और वो बड़ी पारियां खेलना भी जानते हैं। ऐसे में तीसरे टी20 इंटरनेशनल में वो जिम्बाब्वे के लिए ट्रंपकार्ड होंगे। अगर जिम्बाब्वे को इस सीरीज में बढ़त बनानी है तो रज़ा को बल्ले के साथ-साथ गेंद से भी अच्छा प्रदर्शन करना होगा क्योंकि अगर रज़ा की गेंद घूमी तो मैच भी जिम्बाब्वे की तरफ घूम सकता है। रज़ा बेशक दूसरे मैच में महंगे साबित हुए लेकिन वो अपने अनुभव के चलते भारतीय बल्लेबाजों को तीसरे मैच में परेशान कर सकते हैं।

4. रवि बिश्नोई- भारत के लिए इस सीरीज में रवि बिश्नोई ने शानदार प्रदर्शन किया है। बिश्नोई अब तक दो मैचों में छह विकेट लेकर सीरीज के सबसे बेहतरीन गेंदबाज़ रहे हैं। तीसरे टी20 में भी बिश्नोई बीच के ओवरों में अहम भूमिका निभाएंगे और हो सकता है कि वो सबसे ज्यादा विकेट भी ले जाएं।

Also Read: Akram ‘hopes’ Indian Team Will Travel To Pakistan For 2025 Champions Trophy

5. मुकेश कुमार- इस तेज़ गेंदबाज़ ने अब तक दो मुकाबलों में काफी प्रभावित किया है। कप्तान शुभमन गिल ने जब-जब मुकेश को नई गेंद थमाई तब-तब उन्होंने विकेट निकाल कर दिया। जिम्बाब्वे के ओपनर इनोसेंट काइया तो मुकेश के सामने नतमस्तक नजर आए और दोनों मैचों में वो बोल्ड हो गए। पहले मैच में एक विकेट लेने वाले मुकेश ने दूसरे मैच में तीन विकेट निकाले। इस सीरीज में मुकेश जिस गति और लाइन-लेंग्थ के साथ गेंदबाजी कर रहे हैं वो तीसरे मैच में भी विपक्षी टीम के लिए घातक साबित हो सकते हैं।

Advertisement

Cricket Scorecard

Advertisement
TAGS IND Vs ZIM
Advertisement