X close
X close

कोहली और रोहित कर रहे हैं धमाका, श्रीलंकाई गेंदबाज हुए हताश

by Vishal Bhagat Dec 05, 2017 • 15:01 PM

5 दिसंबर, नई दिल्ली (CRICKETNMORE)। भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने अपने जन्मदिन का जश्न फिरोजशाह कोटला मैदान पर खेले जा रहे तीसरे टेस्ट मैच के चौथे दिन सोमवार को बेहतरीन अर्धशतक के साथ मनाया और 67 रनों की पारी खेल भारत को श्रीलंका के खिलाफ 355 रनों से भी ज्यादा रनों की विशाल बढ़त मिल गई है। भारत ने चौथे दिन चायकाल तक अपनी दूसरी पारी में 4 विकेट के नुकसान पर 218 रन बना लिए हैं।  भारत ने अपनी पहली पारी सात विकेट के नुकसान पर 536 रनों पर घोषित कर दी थी और श्रीलंका को उसकी पहली पारी में 373 रनों पर ही सीमित कर दिया था। लाइव स्कोर

PICS: हार्दिक पांड्या की भाभी पंखुड़ी शर्मा है बेहद खूबसूरत, जरूर देखें  

धवन ने पुजारा के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए 77 रनों की साझेदारी की। पुजारा दुर्भाग्यशाली रहे और अपने अर्धशतक से एक रन दूर रह गए। उन्हें 49 के निजी स्कोर पर धनंजय डी सिल्वा ने स्लिप पर एंजेलो मैथ्यूज के हाथों कैच कराया।

पुजारा ने हालांकि, इस पारी में तेज खेल दिखाया। वह धवन से भी तेज खेल रहे थे। उन्होंने 66 गेंदों में पांच चौके लगाए, जबिक अर्धशतक पूरा करने तक धवन ने सिर्फ तीन चौके मारे थे। 50 रन पूरा करने के बाद धवन ने तेज खेल दिखाया और इसी प्रयास में लक्षण संदाकन की गेंद को निकल कर मारने के प्रयास में चूक गए और निरोशन डिकवेला ने उन्हें स्टम्प कर दिया। उन्होंने अपनी पारी में 97 गेंदें खेलीं और पांच चौकों के साथ एक छक्का लगाया। 

उनसे पहले भारत ने मुरली विजय (9) और अंजिक्य रहाणे (10) के रूप में दो विकेट खोए थे। लकमल ने भारतीय पारी के तीसरे ओवर की पहली ही गेंद पर विजय को विकेटकीपर निरोशन डिकवेला के हाथों कैच कराया। वहीं खराब फॉर्म से जूझ रहे रहाणे को दो बार अंपायर ने आउट दे दिया था, लेकिन वह रिव्यू के कारण बच गए। हालांकि रहाणे इन दो जीवनदानों का फायदा नहीं उठा सके और ऑफ स्पिनर दिलरुवान परेरा की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने प्रयास में लोंग ऑन पर लक्षण संदाकान के हाथों लपके गए। 

श्रीलंकाई टीम के तकरीबन सात खिलाड़ी एक बार फिर चौथे दिन फील्डिंग के दौरान मास्क पहन कर उतरे थे। लकमल ने इसी दौरान मैदान पर उल्टी की थी जिसके बाद उन्होंने छठे ओवर में मैदान से बाहर जाना पड़ा, हालांकि उन्होंने 10वें ओवर में वापसी की।

मेहमान टीम ने चौथे दिन की शुरुआत नौ विकेट के नुकसान पर 356 रनों के साथ की थी। भारत को उसे ऑल आउट करने के लिए सिर्फ एक विकेट की दरकार थी, जिसे ईशांत शर्मा ने दिन के छठे ओवर में उसकी झोली में डाला।

ईशांत ने श्रीलंकाई कप्तान दिनेश चंडीमल को अपना जन्मदिन मना रहे धवन के हाथों थर्डमैन पर कैच कराया। 

मेहमान टीम की तरफ से चंडीमल ने सबसे ज्यादा 164 रन बनाए। यह उनके करियर का सर्वश्रेष्ठ स्कोर भी है। चंडीमल ने तीसरे दिन का अंत 147 रनों के साथ किया था। चंडीमल ने अपनी पारी में 361 गेंदों पर 21 चौके और एक छक्का लगाया। 

पूर्व कप्तान एंजेलो मैथ्यूज ने 111 रनों की पारी खेली। वह तीसरे दिन श्रीलंका के दिन के पहले और कुल चौथे विकेट के रूप में आउट हुए थे। मैथ्यूज और चंडीमल ने चौथे विकेट के लिए 181 रनों की साझेदारी करते हुए श्रीलंका संकट से उबारा था। भारत की तरफ से रविचंद्रन अश्विन और ईशांत ने तीन-तीन विकेट लिए। वहीं मोहम्मद शमी, रवींद्र जडेजा को दो-दो विकेट मिले। 

भारत ने कप्तान विराट कोहली (243) के रिकार्ड दोहरे शतक, विजय (155), रोहित शर्मा (65) की बेहतरीन पारियों के दम पर अपनी पहली पारी सात विकेट के नुकसान पर 536 रनों पर घोषित कर दी थी। श्रीलंकाई टीम के खिलाड़ियों द्वारा प्रदूषण की शिकायत करने के बाद दूसरे दिन के दूसरे सत्र में तीन बार दिन का खेल रोक दिया गया था। इसी से परेशान होकर भारतीय कप्तान ने पारी घोषित कर दी थी।