X close
X close
Indibet

भारत करेगा इंग्लैंड की मेजबानी, मोटेरा स्टेडियम में होगा भारत का दूसरा डे-नाइट टेस्ट

IANS News
By IANS News
December 10, 2020 • 18:01 PM View: 344

अहमदाबाद में बना नया सरदार पटेल मोटेरा स्टेडियम भारत के दूसरे दिन-रात टेस्ट मैच की मेजबानी करेगा। भारत इस स्टेडियम में इंग्लैंड के साथ 24 से 28 फरवरी के बीच गुलाबी गेंद से टेस्ट मैच खेलेगा। यह दोनों टीमों के बीच खेली जाने वाली चार मैचों की टेस्ट सीरीज का तीसरा मैच होगा। बीसीसीआई ने गुरुवार को इंग्लैंड के भारत दौरे के कार्यक्रम की घोषणा की। इस सीरीज में चार टेस्ट, पांच टी20 और तीन वनडे मुकाबले खेले जाएंगे।

मोटेरा स्टेडियम तीसरे और चौथे टेस्ट मैच की मेजबानी के अलावा दोनों टीमों के बीच होने वाली पांच मैचों की टी-20 सीरीज की भी मेजबानी करेगा। सरदार पटेल स्टेडियम की क्षमता 1 लाख दर्शकों की है।

Trending


इससे पहले भारत ने अपना पहला डे-नाइट टेस्ट कोलकाता के ईडन गार्डन्स स्टेडियम में बीते साल नवंबर में बांग्लादेश के खिलाफ खेला था।

इंग्लैंड के भारत दौरे की शुरुआत टेस्ट सीरीज से होगी। पहला टेस्ट पांच फरवरी से नौ फरवरी के बीच चेन्नई में खेला जाएगा। चेन्नई का एमए चिदम्बरम स्टेडियम पहले मैच के अलावा दूसरे टेस्ट मैच की भी मेजबानी करेगा। दूसरा टेस्ट 13 से 17 फरवरी के बीच खेला जाएगा।

तीसरा टेस्ट अहमदाबाद में और चौथा टेस्ट भी दुनिया के सबसे बड़े स्टेडियम- मोटेरा स्टेडियम में चार से आठ मार्च के बीच खेला जाएगा। इस स्टे्िडयम की क्षमता एक लाख बताई जा रही है।

टी-20 सीरीज की शुरुआत 12 मार्च से होगी। 14, 16, 18 और 20 मार्च को बाकी के टी-20 मैच खेले जाएंगे। यह सभी मैच मोटेरा में ही होंगे जिससे एक बात तय है कि यह नया भव्य स्टेडियम दोनों टीमों के लिए सबसे लंबे समय तक बायो बबल का काम करेगा।

इसी तरह वनडे सीरीज के लिए पुणे का महाराष्ट्र क्रिकेट संघ (एमसीए) स्टेडियम बायो बबल बनेगा। तीन मैचों की वनडे सीरीज के सभी तीन मैच-23, 26 और 28 मार्च को इसी स्टेडियम में खेले जाएंगे।

कोविड-19 के बाद पहली बार भारत में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट मैच होंगे। महामारी के कारण ही इस बार आईपीएल का आयोजन भारत के बाहर संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में कराया गया था।

बीसीसीआई द्वारा जारी बयान में सचिव जय शाह के हवाले से लिखा गया है, "बीसीसीआई की प्राथमिकता दोनों टीमों का स्वास्थ है और हम इस बात को सुनिश्चित करने में कोई कसर नहीं छोडेंगे कि यह दौरा बीसीसीआई और ईसीबी की मेडिकल टीम के सुरक्षा प्रोटोकॉल्स के मुताबिक हो। दोनों बोर्ड ने इस सीरीज के लिए मिलकर काम किया है। यह कोविड-19 के बाद भारत की घर में पहली द्विपक्षीय सीरीज होगी।"

ईसीबी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) टॉम हैरिसन ने कहा, "भारत और इंग्लैंड के बीच सीरीज अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट कैलेंडर में काफी अहम होती है और पूरे विश्व के प्रशंसक इसमें रुची रखते हैं। हम बीसीसीआई की प्लानिंग से काफी खुश हैं। उन्होंने चेन्नई, अहमदाबाद और पुणे तीन स्थलों को चुना है जो बायो सिक्योर बबल में मेजबानी करने को तैयार हैं।"


 
Article