"
X close
X close

पूर्व महान दिग्गज राहुल द्रविड़ ने की एक खास ख्वाहिश, आईपीएल में ज्यादा भारतीय कोच होने चाहिए !

By Vishal Bhagat
Nov 28, 2019 • 18:31 PM

28 नवंबर। राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) के मुखिया और भारत के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने कहा है कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में ज्यादा से ज्यादा भारतीय कोच होने चाहिए। द्रविड़ ने कहा कि भारतीय कोच भी विदेशी प्रशिक्षकों की तरह काबिल हैं। द्रविड़ यहां इंडिया अंडर-19 और अफगानिस्तान अंडर-19 टीमों के बीच खेले गए मैच में शिरकत करने आए थे। इस दौरान उन्होंने संवाददाताओं से बात की।

वेबसाइट ईएसपीएनक्रिकइंफो ने द्रविड़ के हवाले से लिखा है, "मुझे लगता है कि हमारे पास कुछ अच्छे प्रशिक्षक हैं। मुझे उनकी काबिलियत में पूरा विश्वास है। जिस तरह हमारे पास क्रिकेट में शानदार प्रतिभा है उसी तरह हमारे पास कोचिंग विभाग में भी अच्छी प्रतिभा है। हमें उन्हें आतविश्वास देने और अच्छा करने के लिए समय देने की जरूरत है। मुझे पूरा विश्वास है कि वह इसमें सफल रहेंगे।"

Also Read: डे- नाइट टेस्ट में प्रभुत्व बरकरार रखना चाहेगी आस्ट्रेलिया (प्रीव्यू), संभावित XI

पूर्व में इंडिया अंडर-19 और इंडिया-ए के कोच के अलावा राजस्थान रॉयल्स तथा दिल्ली डेयरडेविल्स के कोच रह चुके द्रविड़ ने कहा है कि जब वह आईपीएल में कोचिंग स्टाफ में भारतीय लोगों को नहीं देखते हैं तो उन्हें निराशा होती है।

उन्होंने कहा, "जब कई सारे लड़कों को आईपीएल में सपोर्ट स्टाफ में मौका नहीं मिलता है तो मुझे कई बार निराशा होती है। ईमानदारी से कहूं तो आईपीएल में कई सारे भारतीय खिलाड़ी हैं, कई सारी स्थानीय जानकारी की जरूरत है। मुझे लगता है कि इससे कई टीमें फायदा उठा सकती हैं। वह भारतीय खिलाड़ियों को बेहतर तरीके से जानते हैं और उन्हें बेहतर तरीके से समझते भी हैं।"

द्रविड़ के कोच रहते ही इंडिया अंडर-19 टीम ने पिछले साल विश्व कप अपने नाम किया था। इस टीम से तीन बेहतरीन तेज गेंदबाज- कमलेश नागारकोटी, शिवम मावी और ईशान पोरेल निकले थे। यह तीनों आईपीएल और घरेलू क्रिकेट में अच्छा करते आ रहे हैं। द्रविड़ ने कहा कि आने वाले दिनों में भी अंडर-19 टीम से अच्छे गेंदबाज निकलेंगे।

उन्होंने कहा, "हर साल अंडर-19 टीम से अच्छे तेज गेंदबाज निकलते आ रहे हैं। पिछली बार हमारे तीन गेंदबाज-कमलेश, शिवम और ईशान निकले थे। इस साल भी आप कुछ अच्छे तेज गेंदबाज देखेंगे।"


क्रिकेट समाचार टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है। यहां क्लिक करके आप सब्सक्राइब कर सकते हैं।