Advertisement
Advertisement

ICC Rankings: जसप्रीत बुमराह ने रचा इतिहास, टेस्ट रैंकिंग में बने नंबर वन गेंदबाज़

विशाखापट्टनम में इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट में शानदार गेंदबाजी करने वाले जसप्रीत बुमराह को आईसीसी ने टेस्ट रैंकिंग में ईनाम दिया है। बुमराह अब दुनिया के नंबर वन टेस्ट गेंदबाज बन गए हैं।

Shubham Yadav
By Shubham Yadav February 07, 2024 • 13:57 PM
ICC Rankings: जसप्रीत बुमराह ने रचा इतिहास, टेस्ट रैंकिंग में बने नंबर वन गेंदबाज़
ICC Rankings: जसप्रीत बुमराह ने रचा इतिहास, टेस्ट रैंकिंग में बने नंबर वन गेंदबाज़ (Image Source: Google)
Advertisement

विशाखापट्टनम टेस्ट में अपनी शानदार गेंदबाजी से टीम को जीत दिलाने वाले भारत के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने एक बार फिर से इतिहास रच दिया है। बुमराह विशाखापट्टनम टेस्ट में 9 विकेट लेने के बाद दुनिया के नंबर वन टेस्ट गेंदबाज बन गए हैं। आईसीसी द्वारा ताजा जारी की गई पुरुष टेस्ट गेंदबाज रैंकिंग में बुमराह नंबर 1 हैं। ऐसा पहली बार है कि भारत का कोई तेज गेंदबाज नंबर वन टेस्ट गेंदबाज बना है।

दूसरे टेस्ट में नौ विकेट लेने वाले बुमराह को प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार भी दिया गया था और अब गेंदबाजों की नवीनतम टेस्ट रैंकिंग में तीन पायदान चढ़कर बुमराह नंबर वन बन गए हैं। बुमराह ने रविचंद्रन अश्विन से नंबर वन की कुर्सी छीनकर ये जगह हासिल की। अश्विन पिछले साल मार्च से नंबर वन गेंदबाज बने हुए थे लेकिन विशाखापट्टनम टेस्ट में वो भारत के लिए सिर्फ तीन विकेट ही ले पाए जिसके चलते वो दो स्थान गिरकर तीसरे स्थान पर आ गए हैं।

Trending


जबकि साउथ अफ्रीका के तेज गेंदबाज कगिसो रबाडा ने अपना दूसरा स्थान बरकरार रखा है। ये पहली बार है कि बुमराह ने शीर्ष रैंकिंग हासिल की है, 30 वर्षीय अपने देश के लिए 34 टेस्ट मैचों में कुल 10 बार पांच विकेट लेने के बावजूद पहले कभी भी तीसरे स्थान से ऊपर नहीं रहे थे। गेंदबाजी रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंचने वाले बुमराह भारत के चौथे और पहले तेज गेंदबाज हैं, अश्विन, रवींद्र जडेजा और बिशन बेदी एशियाई देश के एकमात्र खिलाड़ी हैं जिन्होंने पहले ऐसा किया है।

बुमराह के इस समय 881 रेटिंग अंक हैं और वो इस समय दूसरे नंबर पर काबिज कगिसो रबाडा (851) से 30 पॉइंट्स आगे हैं। ऐसे में अगर बुमराह बाकी बचे तीन मैचों में भी अपना ये प्रदर्शन जारी रखते हैं तो वो रबाडा और बाकी गेंदबाजों से इतना आगे निकल जाएंगे कि शायद आगे आने वाले समय में उन्हें पकड़ पाना आसान नहीं होगा।

Advertisement

Cricket Scorecard

Advertisement
Advertisement