Advertisement
Advertisement

इंग्लैंड को जिताने के बाद बोले जो रूट, बेन स्टोक्स के कप्तानी में खेलकर अच्छा लगा

इंग्लैंड के वरिष्ठ बल्लेबाज जो रूट (Joe Root) ने टेस्ट कप्तान के रूप में अपने कठिन समय पर विचार करते हुए कहा कि जब टीम हार का सामना कर रही थी, तो यह अच्छा नहीं था और खेल के सबसे

IANS News
By IANS News June 05, 2022 • 23:55 PM
इंग्लैंड को जिताने के बाद बोले जो रूट, बेन स्टोक्स के कप्तानी में खेलकर अच्छा लगा
इंग्लैंड को जिताने के बाद बोले जो रूट, बेन स्टोक्स के कप्तानी में खेलकर अच्छा लगा (Image Source: Twitter)
Advertisement

इंग्लैंड के वरिष्ठ बल्लेबाज जो रूट (Joe Root) ने टेस्ट कप्तान के रूप में अपने कठिन समय पर विचार करते हुए कहा कि जब टीम हार का सामना कर रही थी, तो यह अच्छा नहीं था और खेल के सबसे लंबे प्रारूप में कप्तानी छोड़ने के बाद वह अब बेन स्टोक्स (Ben Stokes) के नेतृत्व में टीम के भविष्य के लिए उत्साहित हैं। रूट इंग्लैंड के लिए जीत और हार के लिए मुख्य खिलाड़ी थे, क्योंकि 277 रनों के लक्ष्य का पीछा करने के लिए नाबाद 115 रन बनाकर मेजबान टीम ने लॉर्डस टेस्ट के चौथे दिन न्यूजीलैंड पर पांच विकेट से जीत हासिल की और 'प्लेयर ऑफ द मैच' पुरस्कार अपने नाम किया।

मैच के बाद रूट ने कहा, "बहुत से लोग मेरे व्यक्तिगत प्रदर्शन के बारे में बात करेंगे, लेकिन जब आप हार रहे हों तो यह कभी अच्छा नहीं होता है। स्टोक्स के नेतृत्व में इस तरह की शुरुआत करना हमारे लिए वास्तव में अच्छा है।"

Trending


रूट ने आगे कहा कि जब भी उन्हें जरूरत होगी वह स्टोक्स के लिए हमेशा मौजूद रहेंगे।

उन्होंने कहा, "मैंने यह स्पष्ट कर दिया है कि जब भी उन्हें (स्टोक्स) मेरी जरूरत होगी, मैं हमेशा मदद के लिए रहूंगा। मैं यह सुनिश्चित करना चाहता हूं कि अगर उन्हें मेरी मदद की जरूरत होगी तो मैं उन्हें हर संभव मदद करूंगा।"

टिम साउदी के खिलाफ शॉट लगाकर रूट ने अपना 26वां टेस्ट शतक पूरा किया और 10,000 टेस्ट रन तक पहुंचने वाले सर एलिस्टेयर कुक के बाद 14वें क्रिकेटर और सिर्फ दूसरे अंग्रेजी खिलाड़ी बने।

रूट ने कहा, "एक टेस्ट मैच जीतना हमारे लिए अच्छा है। बेन और ब्रेंडन के तहत जोरदार शुरुआत करना और हमारे लिए जीतना जरूरी था। कोरोना महामारी से बचने के लिए लॉडर्स में कई उपाय किए गए हैं, जिसमें कैसे खेला जाए, हर पहलुओं पर बारिकी से ध्यान केंद्रित किया गया था।"

यह पूछे जाने पर कि मैच इंग्लैंड के पक्ष कब आया, तो रूट ने स्टोक्स के 54 रन पर आउट होने के बाद उन्हें और अधिक सक्रिय होने के बारे में बताया।

उन्होंने कहा, "मैच में एक अलग क्षण था, जब दूसरी बार उन्होंने उस गेंद को बदल दिया और वह गेंद पहले की तरह स्विंग नहीं की। यह काफी धीमा विकेट था।"

रूट ने डेब्यू करने वाले तेज गेंदबाज मैथ्यू पॉट्स की 4/13 और 3/55 की प्रशंसा करते हुए मैच में न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन को दो बार आउट करने के तरीकों को शानदार बताया।

Advertisement

Cricket Scorecard

Advertisement