X close
X close
Indibet

क्रिकेट फैंस के लिए बुरी खबर, BCCI ने पहली बार रद्द किया यह बड़ा टूर्नामेंट

IANS News
By IANS News
January 30, 2021 • 21:15 PM View: 250

वर्ष 1934-35 से होती आ रही भारत की प्रमुख राष्ट्रीय प्रथम श्रेणी क्रिकेट टूर्नामेंट-रणजी ट्रॉफी का आयोजन 2020-21 घरेलू सीजन में नहीं होगा। 86 साल में यह पहली बार होगा, जब इस घरेलू क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन नहीं किया जाएगा। 29 जनवरी को अपने सभी संबद्ध राज्य संघों को भेजे गए एक पत्र में, भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) इस सीजन में रणजी ट्रॉफी का आयोजन नहीं करने के फैसले पर अडिग है।

बीसीसीआई ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी टी 20 टूर्नामेंट के पूरा होने के बाद 50 ओवरों के विजय हजारे ट्रॉफी टूर्नामेंट और सीनियर महिला वन डे टूर्नामेंट आयोजित करने का फैसला किया है।

Trending


एक राज्य संघ के अध्यक्ष ने कहा है कि बीसीसीआई के संकेतों से साफ जाहिर होता है कि वह रणजी ट्रॉफी के आयोजन को लेकर उत्सुक नहीं है।

उन्होंने आईएएनएस से कहा, "पहले दिन से यह तय था कि बीसीसीआई इस सीजन में रणजी ट्रॉफी का आयोजन नहीं करेगा। यह दुखद और दुर्भाग्यपूर्ण है कि रणजी ट्रॉफी नहीं खेली जाएगी। यह एक दुखद खबर है और भारतीय क्रिकेट के लिए एक दुखद दिन है।"

अध्यक्ष ने बीसीसीआई के सचिव जय शाह के पत्र का हवाला देते हुए कहा, "यहां तक कि बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने भी अपने पत्र में 'रणजी ट्रॉफी' शब्द का इस्तेमाल नहीं किया है। लेकिन उन्होंने फोन पर राज्य संघों से बात करके कहा है कि इस सीजन में रणजी ट्रॉफी का आयोजन नहीं किया जाएगा।"

बीसीसीआई ने अपने सभी संबद्ध राज्य संघों से विचार मांगा था कि वे बताएं कि विजय हजारे ट्रॉफी का आयोजन किया जाए या रणजी ट्रॉफी का। बीसीसीआई ने हालांकि, इस 'पोल' को सार्वजनिक नहीं किया, इसलिए कोई भी नहीं जानता कि उसके कितने सहयोगी रणजी ट्रॉफी का आयोजन करना चाहते थे।

जय शाह ने अपने पत्र में कहा था, " हमारे लिए यह सुनिश्चित करना बेहद महत्वपूर्ण था कि महिला क्रिकेट हो और मुझे यह बताते हुए बेहद खुशी हो रही है कि हम विजय हजारे ट्रॉफी के साथ-साथ सीनियर महिला एक वनडे टूर्नामेंट का संचालन करने जा रहे हैं और इसके तहत वीनू माकंड यू-19 ट्रॉफी का आयोजन होगा।"

शाह ने कहा कि तारीखों और स्थानों सहित टूर्नामेंटों की जानकारी बाद में दी जाएगी। अप्रैल में शुरू होने वाले 2021 इंडियन प्रीमियर लीग के कारण बीसीसीआई के पास घरेलू टूर्नामेंट आयोजित करने के लिए केवल दो महीने का विंडो पड़ा हुआ है।


 
LivePools