Advertisement
Advertisement
Advertisement

क्या फिर से होगी भारत-पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय सीरीज? PCB चीफ के बयान से हलचल हुई तेज़

भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय सीरीज को हुए एक दशक से भी ज्यादा का समय हो गया है और ऐसे में हर क्रिकेट फैन के लिए पीसीबी चीफ जका अशरफ ने खुश कर देने वाला बयान दिया है।

Shubham Yadav
By Shubham Yadav January 12, 2024 • 11:16 AM
क्या फिर से होगी भारत-पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय सीरीज? PCB चीफ के बयान से हलचल हुई तेज़
क्या फिर से होगी भारत-पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय सीरीज? PCB चीफ के बयान से हलचल हुई तेज़ (Image Source: Google)
Advertisement

भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय क्रिकेट सीरीज हुए एक दशक से भी ज्यादा का समय हो गया है। आखिरी बार दोनों टीमों ने 2012-13 में द्विपक्षीय क्रिकेट सीरीज खेली थी। तब से ये दोनों टीमें केवल आईसीसी और महाद्वीपीय इवेंट्स में ही एक-दूसरे से भिड़ी हैं लेकिन इसी बीच पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चीफ जका अशरफ ने एक ऐसा बयान दिया है जिससे क्रिकेट फैंस खुश हो सकते हैं।

इस समय दोनों देशों के बीच राजनीतिक संबंधों को देखें तो भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय सीरीज दूर-दूर तक नज़र नहीं आती लेकिन पीसीबी मैनेजमेंट कमेटी के चेयरमैन जका अशरफ ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिलचस्प बयान दिया है जिसमें उन्होंने कहा है कि दोनों देशों के बोर्ड आपस में सीरीज खेलने के लिए तैयार हैं।

Trending


पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट pcb.com.pk ने जका अशरफ के हवाले से कहा, "जहां तक भारत-पाकिस्तान सीरीज का सवाल है, जब तक सरकार की मंजूरी है, दोनों बोर्ड एक-दूसरे के साथ खेलने के लिए तैयार हैं।" .

हालांकि, अशरफ के इस बयान के बाद बीसीसीआई की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। ऐसे में ये देखना दिलचस्प होगा कि बीसीसीआई इस बयान पर क्या रिएक्शन देता है। इससे बयान से पहले सितंबर 2023 में, केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा था कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने पहले फैसला किया था कि भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट की द्विपक्षीय सीरीज तब तक नहीं होगी जब तक पाकिस्तान "आतंकवाद" को समाप्त नहीं कर देता।

Also Read: Live Score

अनुराग ठाकुर ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा था, "बीसीसीआई ने बहुत पहले ही फैसला कर लिया था कि हम पाकिस्तान के साथ तब तक द्विपक्षीय मैच नहीं खेलेंगे जब तक वो आतंकवाद, सीमा पार हमलों और घुसपैठ को खत्म नहीं कर देते। मुझे लगता है कि देश और जनता की भावनाएं भी यही हैं।" ठाकुर का ये बयान जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में तीन शीर्ष भारतीय सुरक्षाकर्मियों के मारे जाने के बाद आया था।


Cricket Scorecard

Advertisement