X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

राठौर, अरुण और श्रीधर भारतीय टीम के सपोर्ट स्टाफ के लिए चयनकर्ताओं की सूची में

by Sahir Usman Aug 23, 2019 • 08:01 AM

नई दिल्ली, 23 अगस्त - एम.एस.के.प्रसाद की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय सीनियर चयन समिति ने विक्रम राठौर, भरत अरुण और आर. श्रीधर को भारतीय क्रिकेट टीम के क्रमश : बल्लेबाजी, गेंदबाजी और फील्डिंग कोच के लिए शॉर्ट लिस्ट किया है। पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज राठौर अब संजय बांगर की जगह ले सकते हैं जबकि अरुण और श्रीधर का अपने पद पर बने रहना लगभग तय है।

बल्लेबाजी कोच पद के लिए राठौर के अलावा मार्क रामप्रकाश भी शॉर्ट लिस्ट किए गए हैं, लेकिन राठौर पहली पसंद माने जा रहे हैं।

बीसीसीआई के नए संविधान के मुताबिक, मुख्य कोच को चुनने की जिम्मेदारी क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) की है जबकि सपोर्ट स्टाफ को चुनने का जिम्मा चयन समिति पर है।

सीएसी ने रवि शास्त्री को मुख्य कोच के पद पर बनाए रखने का फैसला किया है। 

चयन समिति ने अपने बीसीसीआई मुख्यालय में टीम का सपोर्ट स्टाफ चुनने के लिए उम्मीदवारों का साक्षात्कार लिया।

एम.एस.के. प्रसाद की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय सीनियर चयन समिति में प्रसाद के अलावा, शरणदीप सिंह, गगन खोडा और जतिन परांजपे शामिल थे जबकि देवांग गांधी ने वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिये इसमें हिस्सा लिया। 

समिति ने बल्लेबाजी कोच पद के लिए 14 उम्मीदवारों, गेंदबाजी कोच के लिए 12, फील्डिंग कोच के लिए नौ, फिजियोथेरेपिस्ट पद के लिए 16, स्ट्रेंथ और कंडिशनिंग कोच पद के लिए 12 और एडमिनिस्ट्रेटिव मैनेजर पद के लिए 24 उम्मीदवारों का साक्षात्कार लिया। 

चार दिवसीय यह साक्षात्कार सोमवार को शुरू हुआ और यह गुरुवार तक चला। 

चयन समिति ने गेंदबाजी कोच के लिए अरुण के अलावा पारस म्हाम्ब्रे और वेंकटेश प्रसाद को शॉर्ट लिस्ट किया है, लेकिन माना जा रहा है कि अरुण अपने पद पर बने रहेंगे।

इसके अलावा फील्डिंग कोच के लिए श्रीधर के अलावा अभय शर्मा और टी. दिलीप के नामों की शॉर्ट लिस्ट किया गया है लेकिन यहां भी श्रीधर के अपने पद पर बने रहने की उम्मीद है।

अरुण का गेंदबाजी कोच बने रहना पहले से ही तय था। वहीं फील्डिंग कोच आर. श्रीधर के भी टीम के साथ बने रहने की संभावनाएं थी। पूर्व बल्लेबाज प्रवीण आमरे ने भी बल्लेबाजी कोच के लिए आवेदन दिया था, लेकिन राठौर चयनकर्ताओं की पहली पसंद माने जा रहे हैं।


आईएएनएस