X close
X close

ऋषभ पंत को लेकर आई बुरी खबर, इतने लंबे समय तक हो सकते हैं क्रिकेट से बाहर

भारत के विकेटकीपर-बल्लेबाज ऋषभ पंत (Rishabh Pant) के दाहिने घुटने में तीन प्रमुख लिगामेंट के टूटने के बाद 2023 में अधिकांश क्रिकेट एक्शन से बाहर होने की उम्मीद है।

IANS News
By IANS News January 14, 2023 • 22:14 PM

भारत के विकेटकीपर-बल्लेबाज ऋषभ पंत (Rishabh Pant) के दाहिने घुटने में तीन प्रमुख लिगामेंट के टूटने के बाद 2023 में अधिकांश क्रिकेट एक्शन से बाहर होने की उम्मीद है। ईएसपीएन क्रिकइंफो की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि पंत, जो 30 दिसंबर को एक भयानक कार दुर्घटना में चमत्कारिक रूप से बच गए थे, उनके दाहिने घुटने में तीन लिगामेंट टीयर हैं, जिसमें से दो की सर्जरी 6 जनवरी को हो चुकी है लेकिन अभी भी एक सर्जरी और होनी है। इस सर्जरी को करने के लिए कम से कम 6 हफ्तों का इंतजार करना होगा।

रिपोर्ट में कहा गया: घुटने के सभी तीन लिगामेंट- एंटीरियर क्रूसिएट लिगामेंट, पोस्टीरियर क्रूसिएट लिगामेंट और मेडियल कोलेटरल लिगामेंट, ये तीनों ही लिगामेंट पैरों की मूवमेंट और उन्हें स्थिरता देने के लिए सबसे अहम होते हैं- पंत के मामले में तीनों ही फटे हुए हैं। हाल ही में की गई सर्जरी में, पीसीएल और एमसीएल दोनों का पुनर्निर्माण किया गया था। पंत को एसीएल के लिए एक और सर्जरी से गुजरना होगा, लेकिन इसके लिए कम से कम छह सप्ताह तक इंतजार करना होगा।

Trending


नतीजतन, पंत को कम से कम छह महीने तक खेल के मैदान से दूर रहना होगा, जो अक्टूबर-नवंबर में भारत में होने वाले 2023 एकदिवसीय विश्व कप के लिए उनके फिट होने और चयन के लिए उपलब्ध होने की संभावनाओं को संभावित रूप से प्रभावित कर सकता है।

30 दिसंबर को सुबह करीब 5:30 बजे, 25 वर्षीय पंत को कई चोटें आईं, जब उनकी कार दिल्ली-देहरादून हाईवे पर एक डिवाइडर से टकरा गई और उसमें आग लग गई। उत्तराखंड राज्य में हरिद्वार जिले के मंगलौर और नरसन के बीच यह भीषण कार दुर्घटना हुई। मैक्स अस्पताल, देहरादून में भर्ती होने से पहले पंत को शुरू में सक्षम अस्पताल मल्टीस्पेशियलिटी और ट्रॉमा सेंटर ले जाया गया था। वह नई दिल्ली से अपने गृहनगर रुड़की जा रहे थे और अपनी मर्सिडीज कार चलाते समय अकेले थे।

4 जनवरी को, भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने घोषणा की कि पंत को सर्जरी और आगे के इलाज के लिए एयर एंबुलेंस के माध्यम से देहरादून से मुंबई स्थानांतरित किया जाएगा, जहां वह अब मुंबई के अंधेरी वेस्ट में कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल में सेंटर फॉर स्पोर्ट्स मेडिसिन के प्रमुख और आथ्रेस्कोपी एंड शोल्डर सर्विस के निदेशक डॉ दिनशॉ पारदीवाला की सीधी निगरानी में हैं।

30 दिसंबर को दुर्घटना के बाद बीसीसीआई के पहले मेडिकल अपडेट में कहा गया था कि दाहिने घुटने के लिगामेंट के अलावा, पंत के माथे पर दो कट लगे हैं, और उनकी दाहिनी कलाई, टखने और पैर की अंगुली में भी चोट लगी है, इसके अलावा उनकी पीठ पर चोट लगी है। उसी शाम बाद में, मेडिकल बुलेटिन ने कहा कि पंत के मस्तिष्क और रीढ़ की एमआरआई के परिणाम सामान्य निकले। इसमें कहा गया है कि पंत ने अपने चेहरे की चोटों, कटे हुए घावों और खरोंच को ठीक करने के लिए प्लास्टिक सर्जरी भी करवाई।

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि डॉक्टरों द्वारा अभी तक कोई निश्चित समयरेखा नहीं दी गई है कि पंत को क्रिकेट खेलने के लिए प्रशिक्षण फिर से शुरू करने में कितना समय लगेगा। इसमें कहा गया है कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) और चयनकर्ताओं ने निष्कर्ष निकाला है कि विकेटकीपर-बल्लेबाज कम से कम छह महीने के लिए बाहर रहेगा। इसका तात्पर्य यह है कि पंत न्यूजीलैंड के खिलाफ व्हाइट-बॉल श्रृंखला, बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के लिए चार टेस्ट और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन वनडे, आईपीएल 2023, और विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप (डब्ल्यूटीसी), अगर भारत खिताबी मुकाबले में जगह बनाता है तो इन सभी में नहीं खेल पाएंगे।

उनकी अनुपस्थिति में, केएस भरत और इशान किशन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले दो टेस्ट के लिए विकेटकीपिंग विकल्प होंगे। भरत और इशान को न्यूजीलैंड के खिलाफ 18 जनवरी से शुरू होने वाली तीन मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला के लिए कीपिंग विकल्प के रूप में भी शामिल किया गया है। ईशान और जितेश शर्मा का न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20आई के लिए भी चयन हुआ है, जो एकदिवसीय श्रृंखला के बाद होगा।

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि डॉक्टरों द्वारा अभी तक कोई निश्चित समयरेखा नहीं दी गई है कि पंत को क्रिकेट खेलने के लिए प्रशिक्षण फिर से शुरू करने में कितना समय लगेगा। इसमें कहा गया है कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) और चयनकर्ताओं ने निष्कर्ष निकाला है कि विकेटकीपर-बल्लेबाज कम से कम छह महीने के लिए बाहर रहेगा। इसका तात्पर्य यह है कि पंत न्यूजीलैंड के खिलाफ व्हाइट-बॉल श्रृंखला, बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के लिए चार टेस्ट और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन वनडे, आईपीएल 2023, और विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप (डब्ल्यूटीसी), अगर भारत खिताबी मुकाबले में जगह बनाता है तो इन सभी में नहीं खेल पाएंगे।

This story has not been edited by Cricketnmore staff and is auto-generated from a syndicated feed