X close
X close

'हमारे ग्राउंड का इस्तेमाल विवाह स्थल के रूप में किया जाता था', शाहिद अफरीदी हुए इमोशनल

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी ने उस समय को याद किया जब 2009 के लाहौर आतंकवादी हमले के बाद पाकिस्तान क्रिकेट निर्वासन से गुजरा था।

Prabhat  Sharma
By Prabhat Sharma November 14, 2022 • 12:18 PM

पाकिस्तान के टीवी चैनल समा टीवी पर बोलते हुए पूर्व पाकिस्तानी दिग्गज खिलाड़ी शाहिद अफरीदी (Shahid Afridi) ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) और देश की सरकार द्वारा खेल के लिए सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ाने के प्रयासों की सराहना की है। शाहिद अफरीदी ने कहा, 'मुश्किल दौर बीत चुका है। टीमों ने पाकिस्तान का दौरा करना शुरू कर दिया है। ऑस्ट्रेलिया आया, इंग्लैंड आया। ये ऐसी चीजें थीं जो हमारे दर्शक मिस कर रहे थे।' जब कोई भी इंटरनेशनल टीम पाकिस्तान नहीं आ रही थी उस समय को याद करते हुए अफरीदी ने इमोशनल बात कही है।

शाहिद अफरीदी ने आगे कहा, 'उस वक्त पाकिस्तान में क्रिकेट के कुछ मैदानों को विवाह स्थलों में बदल दिया गया था। क्योंकि कोई भी इंटरनेशनल टीम यहां आने को तैयार नहीं हो रही थीं और ना ही ऑफ-सीजन में कोई घरेलू क्रिकेट आयोजित नहीं किया जा सकता था।'

Trending


शाहिद अफरीदी ने कहा, 'पाकिस्तान क्रिकेट के लिए यह मुश्किल दौर था, हमें अपने क्राउड की कमी खल रही थी। इसके लिए जिन लोगों ने काम किया है, उन्होंने काफी मेहनत की है। बोर्ड, सरकार इन्होंने अहम भूमिका निभाई है। 

यह भी पढ़ें: VIDEO: 'इंडिया में वर्ल्ड कप उठाएंगे', रोनी सूरत लेकर बोले शोएब अख्तर

शाहिद अफरीदी ने आगे कहा, 'जब हम बाहर जाकर अन्य लीगों, काउंटी क्रिकेट में खेलते थे तो हम क्रिकेटरों को समझाते थे कि उनकी मदद से हम पाकिस्तान में क्रिकेट को वापस लाने में सक्षम होंगे। जब क्रिकेट वापस शुरू हुआ तो पाकिस्तान से एक अच्छा संदेश भेजा गया कि हम खेल प्रेमी देश हैं और हम यहां क्रिकेट देखना और खेलना चाहते हैं।'