Advertisement
Advertisement
Advertisement

T20 World Cup: 3 खिलाड़ी जिन्हें होना चाहिए था इंडियन स्क्वाड का हिस्सा

भारतीय चयनकर्ताओं ने टी-20 वर्ल्ड कप के लिए इंडियन स्क्वाड का ऐलान कर दिया है। टीम में सिर्फ दो ही बाएं हाथ के खिलाड़ी मौजूद हैं।

Nishant Rawat
By Nishant Rawat September 15, 2022 • 15:28 PM
Cricket Image for T20 World Cup: 3 खिलाड़ी जिन्हें होना चाहिए था इंडियन स्क्वाड का हिस्सा
Cricket Image for T20 World Cup: 3 खिलाड़ी जिन्हें होना चाहिए था इंडियन स्क्वाड का हिस्सा (Shikhar Dhawan)
Advertisement

टी-20 वर्ल्ड कप अक्टूबर-नवंबर के महीने में ऑस्ट्रेलिया में खेला जाना है जिसके लिए भारतीय टीम का ऐलान हो चुका है। चयनकर्ताओं ने 15 खिलाड़ियों की टीम के अलावा चार खिलाड़ियों को स्टैंडबाय के तौर पर शामिल किया है। आज इस आर्टिकल के जरिए हम आपको बताएंगे उन तीन खिलाड़ियों के बार में जिन्हें चयनकर्ताओं ने नज़रअंदाज किया, लेकिन वह ऑस्ट्रेलिया की कंडिशन में काफी प्रभावी साबित हो सकते हैं।

शिखर धवन (Shikhar Dhawan)

Trending


भारतीय टीम को बीते समय में बाएं हाथ के बल्लेबाज़ों की कमी खली है। इस कमी को अनुभवी बल्लेबाज़ शिखर धवन पूरा कर सकते थे। आईपीएल 2022 में उन्होंने 14 मुकाबलों में पंजाब किंग्स के लिए 38.33 की औसत और 122.67 की स्ट्राइक रेट से 460 रन बनाए थे। हालांकि उन्होंने इंडियन टीम के लिए आखिरी टी-20 मुकाबला 29 जुलाई 2021 को खेला था।

एशिया कप में इंडियन टीम के लिए कोई भी बल्लेबाज़ एकंर रोल नहीं निभा सका था, लेकिन शिखर धवन यह काम बखूबी तौर पर करना जानते हैं। ऐसे में ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप के लिए उनके नाम पर विचार किया जा सकता था।

ईशान किशन (Ishan Kishan)

इंडियन स्क्वाड के मिडिल ऑर्डर में लेफ्ट हैंडर्स बैटर्स की भारी कमी है। रविंद्र जडेजा के चोटिल होने के बाद भारतीय टीम में सिर्फ ऋषभ पंत और अक्षर पटेल ही बाएं हाथ के खिलाड़ी मौजूद हैं। ऐसे में ईशान किशन को टीम में शामिल किया जा सकता था।

ईशान किशन टीम के लिए ओपनिंग और मिडिल ऑर्डर दोनों ही जगह बल्लेबाज़ी कर सकते है। ईशान विस्फोटक अंदाज में क्रिकेट खेलते है, ऐसे में उन्हें टीम में जगह दी जा सकती थी।

उमरान मलिक (Umran Malik)

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Umran Malik (@umran_malik_1)

Also Read: Live Cricket Scorecard

टी-20 वर्ल्ड कप ऑस्ट्रेलिया की हरी पिचो पर खेला जाना है ऐसे में उमरान मलिक टीम के लिए कारगर गेंदबाज़ साबित हो सकते थे। उमरान 150 किलोमीटर की स्पीड से लगातार गेंदबाज़ी कर सकते हैं, ऐसे में अगर उन्हें प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं भी दी जाती तो भी वह भारतीय बल्लेबाज़ों की नेट्स प्रैक्टिस के दौरान काफी मदद कर सकते थे।


Cricket Scorecard

Advertisement