X close
X close

सूर्यकुमार यादव ने तूफानी शतक में 16 गेंदों में ठोके 88 रन,T20I में ऐसा करने वाले दुनिया के पहले क्रिकेटर बने

भारतीय बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) ने शनिवार (7 जनवरी) को श्रीलंका के खिलाफ तीसरे और आखिरी टी-20 इंटरनेशनल में तूफानी शतक जड़कर इतिहास रच दिया। सूर्यकुमार ने 51 गेंदों में सात चौकों और नौ छक्कों की मदद...

Saurabh Sharma
By Saurabh Sharma January 07, 2023 • 21:21 PM

भारतीय बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) ने शनिवार (7 जनवरी) को श्रीलंका के खिलाफ तीसरे और आखिरी टी-20 इंटरनेशनल में तूफानी शतक जड़कर इतिहास रच दिया। सूर्यकुमार ने 51 गेंदों में सात चौकों और नौ छक्कों की मदद से नाबाद 112 रनों की पारी खेली। अपनी पारी के 88 रन उन्होंने 16 गेंदों में सिर्फ चौकों-छक्कों से ही बना डाले। यह उनके करियर का तीसरा शतक है।

दूसरे सबसे तेज शतक

Trending


सूर्यकुमार भारत के लिए सबसे तेज टी-20 इंटरनेशऩल शतक जड़ने के मामले में दूसरे स्थान पर पहुंच गए हैं। उन्होंने सिर्फ 45 गेंदों में अपना शतक पूरा किया। सूर्यकुमार ने केएल राहुल का रिकॉर्ड तोड़ा, जिन्होंने 2016 में वेस्टइंडीज के खिलाफ 46 गेंदों में शतक बनाया था। इस लिस्ट में पहले नंबर पर रोहित शर्मा हैं। रोहित ने 2017 में श्रीलंका के खिलाफ 35 गेंदों में शतक जड़ा था। 

मुनरो-मैक्सवेल की बराबरी

टी-20 इंटरनेशऩल में सबसे ज्यादा शतक जड़ने वाले खिलाड़ियों की लिस्ट में सूर्यकुमार संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर पहुंच गए हैं। उनके अलावा न्यूजीलैंड के कॉलिन मुनरो, ऑस्ट्रेलिया के ग्लेन मैक्सवेल और चेक रिपब्लिक के सबावन दविज़ी ने 3-3 शतक जड़े हैं। 

तोड़ा रोहित और युवराज का रिकॉर्ड

सूर्यकुमार भारत के लिए सबसे ज्यादा एक पारी में सात या उससे ज्यादा छक्के जड़ने वाले खिलाड़ी बन गए हैं। उन्होंने तीसरी बार यह कारनामा किया है। रोहित शर्मा और युवराज सिंह ने भारत के लिए दो बार एक पारी में सात या उससे ज्यादा छक्के जड़े हैं।

ऐसा करने वाले पहले खिलाड़ी

सूर्यकुमार पहले खिलाड़ी बन गए हैं, जिन्होंने टी-20 इंटरनेशनल में दो से ज्यादा शतक 50 से कम गेंदों में जड़े हैं। 

1500 रन पूरे किए

Also Read: SA20, 2023 - Squads & Schedule

अपनी इस शतकीय पारी के साथ ही सूर्यकुमार ने टी-20 इंटरनेशनल में अपने 1500 रन पूरे कर लिए। विराट कोहली, रोहित शर्मा, केएल राहुल, शिखर धवन, एमएस धोनी और सुरेश रैना के बाद इस आंकड़े तक पहुंचने वाले वह सातवें भारतीय खिलाड़ी बने हैं।