X close
X close

शमी के होने के बावजूद 23 साल के अर्शदीप ने क्यों फेंका लास्ट ओवर? रोहित शर्मा ने दिया जवाब

बांग्लादेश को 5 रन से हराने के बाद टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा ने अर्शदीप सिंह की जमकर तारीफ की। वहीं रोहित शर्मा को जसप्रीत बुमराह की भी याद आ गई।

Prabhat  Sharma
By Prabhat Sharma November 03, 2022 • 08:22 AM

भारत और बांग्लादेश के बीच खेले गए सुपर-12 के ग्रुप 2 के मुकाबले में टीम इंडिया ने बांग्ला टाइगर को 5 विकेट से हरा दिया है। डकवर्थ लुईस से प्रभावित इस मैच में टीम इंडिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए विराट कोहली के नाबाद 64 और केएल राहुल के 50 रनों की पारी के बदौलत 184 रन बनाए। बांग्लादेश की टीम को डकवर्थ लुईस नियम के आधार पर 16 ओवर में 151 रनों का टारगेट मिला। बांग्लादेश 145 रन ही बना सकी और मुकाबले को 5 रन से हार गई। टीम इंडिया के लिए अर्शदीप सिंह ने 4 ओवर में 38 रन देकर 2 विकेट लिए।

रोहित शर्मा ने मैच के बाद एक सवाल के जवाब में कहा, 'मैं एक ही समय में शांत और नर्वस दोनों था। एक ग्रुप के रूप में हमारे लिए यह महत्वपूर्ण था कि हम शांत रहें और अपने प्लान पर अमल करें। उनके हाथ में 10 विकेट होने के कारण यह मैच किसी भी तरफ जा सकता था। लेकिन, ब्रेक के बाद हमने अच्छा प्रदर्शन किया। जब वो (अर्शदीप) सीन में आए। बुमराह के नहीं होने के कारण किसी को यह हमारे लिए करना होगा और जिम्मेदारी लेनी होगी।'

Trending


रोहित शर्मा ने आगे कहा, 'ऐसे युवा खिलाड़ी के लिए ऐसे मौके पर सामने आना और ऐसा करना आसान नहीं है। लेकिन हमने उसे इसके लिए तैयार किया। पिछले 9 महीनों से वह ऐसा कर रहे हैं। शमी और उनके बीच एक विकल्प था लेकिन हमने किसी ऐसे व्यक्ति का समर्थन किया जिसने पहले हमारे लिए ऐसा काम किया हो।'

विराट कोहली के बारे में बोली ये बात: रोहित शर्मा ने विराट कोहली के बारे में बोलते हुए कहा, 'बस कुछ पारियों की बात थी, उन्हें एशिया कप में मौका मिला और उन्होंने डिलिवर किया। हमें कभी कोई संदेह नहीं था और जिस तरह से वह इस वर्ल्ड कप में बल्लेबाजी कर रहे हैं वह जबरदस्त है और वह वास्तव में हमारे लिए शानदार खेल रहे हैं। 

यह भी पढ़ें: क्या दिनेश कार्तिक उर्फ DK के साथ हुई बेईमानी? फैंस के रडार पर आया थर्ड अंपायर

केएल राहुल के बारे में भी बोले हिटमैन: रोहित शर्मा ने केएल राहुल के बारे में बोलते हुए कहा, 'केएल ने आज जिस तरह से खेला वो भी पसंद आया। हम जानते हैं कि वो किस तरह के खिलाड़ी हैं। वह जिस तरह से बल्लेबाजी कर सकता हैं, वह टीम को एक अलग स्थिति में रखते हैं। हमारी फील्डिंग शानदार थी हमने जो कैच लिए उनमें से कुछ देखने लायक थे। यह एक उच्च दबाव वाला खेल है। उन कैच को लेने से हमारे खिलाड़ियों की क्षमता का पता चलता है और ईमानदारी से कहूं तो मुझे अपने टीम के फील्डिंग के बारे में कभी कोई संदेह नहीं था।'