X close
X close
Indibet

बीसीसीआई की विरासत के आगे ले जाएंगे ठाकुर: गांगुली

Saurabh Sharma
By Saurabh Sharma
May 22, 2016 • 19:58 PM View: 781

मुंबई, 22 मई | भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और बंगाल क्रिकेट संघ (सीएबी) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के नवनियुक्त अध्यक्ष अनुराग ठाकुर को बधाई देते हुए कहा कि बोर्ड के पूर्व सचिव को अपने पूर्ववर्ती अध्यक्षों की विरासत को आगे ले जाना है। हिमाचल प्रदेश से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के लोकसभा सदस्य 41 वर्षीय ठाकुर को असम, बंगाल, त्रिपुरा, झारखंड सहित सभी पूर्वी क्षेत्रों के सदस्यों तथा राष्ट्रीय क्रिकेट क्लब के सदस्यों से समर्थन मिला।

ठाकुर को यहां रविवार को विशेष आम बैठक (एसजीएम) में निर्विरोध रूप से 2014-17 की शेष अवधि के लिए बीसीसीआई का अध्यक्ष चुना गया। उन्होंने शनिवार को इस पद के लिए नामांकन दाखिल किया था।

भाजपा के लोकसभा सदस्य अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के कार्यकारी बोर्ड और एशियाई क्रिकेट परिषद (एसीसी) में बीसीसीआई का प्रतिनिधित्व करेंगे। गांगुली ने यहां रविवार को संवाददाताओं को बताया, "निश्चित तौर पर उन्हें इस पद पर काम कर चुके पूर्ववर्तियों की विरासत को आगे लेकर जाना है। मैं आश्वस्त हूं कि वह सचिव की तरह ही वह इस पद पर भी उसी निष्ठा से काम करेंगे।"

पूर्व कप्तान ने कहा, "वह अपने काम को जानते हैं और वह इसे आगे लेकर जाएंगे।"

शशांक के बीसीसीआई अध्यक्ष पद छोड़ने और फिर आईसीसी का पहला स्वतंत्र चैयरमैन बनने के बाद से ही बीसीसीआई सचिव ठाकुर के इस पद पर आसीन होने की अटकलें लगाई जा रही थीं।

मनोहर ने जगमोहन डालमिया का अचानक निधन होने के बाद इस पद का कार्यभार संभाला था।

गांगुली ने कहा, "मेरा मानना है कि हर कार्य कई चुनौतियों के साथ आता है। मुझे नहीं लगता कि यह कांटों का ताज है, फिर चाहे आप बेहतरीन गेंदबाजी के खिलाफ बल्लेबाजी करें या बीसीसीआई के अध्यक्ष हों। हर काम के साथ चुनौतियां और उम्मीदें जुड़ी होती हैं और आपको उनके साथ काम करना होता है।"

महाराष्ट्र क्रिकेट संघ (एमसीए) के प्रमुख और बिजनेस टायकून अजय शिरके को बीसीसीआई का सचिव नियुक्त किया गया है।

भारत के पूर्व कप्तान ने कहा, "मुझे लगता है कि शिरके और ठाकुर के साथ बीसीसीआई आगे बढ़ेगा। बोर्ड ने पिछले समय में काफी अच्छा काम किया और काफी अनुभवी हाथों में इसकी कमान रही है, जहां खिलाडियों और घरेलू खिलाड़ियों पर काफी ध्यान दिया जाता है।"

भारत-न्यूजीलैंड के रात-दिन के टेस्ट मैच के बारे में 42 वर्षीय गांगुली ने कहा, "यह टेस्ट मैच काफी जरूरी हैं। यह जल्द ही भारत में होने वाले हैं। मुझे नहीं लगता कि अब यह भारत से ज्याजा दूर हैं।" गांगुली ने कहा, "मेरे लिए टेस्ट क्रिकेट इस खेल का सबसे अच्छा प्रारूप है। किसी भी खिलाड़ी के लिए यह एक बेहतरीन चुनौती है और दिन-रात के टेस्ट मैच इसके विकास का सबसे अच्छा तरीका है।

एजेंसी

Trending



Win Big, Make Your Cricket Prediction Now

Koo
TAGS