X close
X close
Indibet

'10 नहीं 5 विकेट लेकर 'ऑनर्स बोर्ड' में नाम दर्ज करवाने का सोचा था'

न्यूजीलैंड के बाएं हाथ के स्पिनर एजाज पटेल ने मुंबई में दूसरे टेस्ट मैच में भारत के खिलाफ एक टेस्ट पारी में अपने 10 विकेटों का प्रदर्शन करते हुए कहा कि यह न केवल उनके लिए बल्कि उनके परिवार के

By IANS News December 10, 2021 • 13:15 PM

न्यूजीलैंड के बाएं हाथ के स्पिनर एजाज पटेल ने मुंबई में दूसरे टेस्ट मैच में भारत के खिलाफ एक टेस्ट पारी में अपने 10 विकेटों का प्रदर्शन करते हुए कहा कि यह न केवल उनके लिए बल्कि उनके परिवार के लिए भी काफी खास दिन था।

मुंबई में जन्मे एजाज पटेल जिम लेकर और अनिल कुंबले के बाद एक टेस्ट मैच की पारी में 10 विकेट लेने वाले तीसरे गेंदबाज बने, जब भारत 325 रन पर आउट हो गया। पटेल ने 47.5 ओवर में 10/119 के आंकड़े के साथ पहली पारी को समाप्त किया।

Trending


पटेल ने मॉनिर्ंग्स विद इयान स्मिथ शो के हवाले से एसईएनजेड पर कहा 'यह मेरे और मेरे परिवार के लिए काफी विशेष दिन था। वर्षो से मुझे जो समर्थन मिला है, उसे मैंने इस दिन पूरा किया हैं। बाकि गेंदबाजों ने भी अच्छी गेंदबाजी की थी लेकिन किस्मत ने मेरा पूरा साथ दिया और मैंने वो कर दिखाया।'

पहले दिन के अंत में, पटेल के खाते में चार विकेट थे, शनिवार को उनका नाम ऑनर्स बोर्ड में दर्ज कराने के लिए एक और विकेट लेने के बारे उन्होंने सोचा था। उस दिन को याद करते हुए, पटेल ने कहा, 'मेरे पास पहले दिन चार विकेट थे और मुझे याद है कि मैं अगले दिन ऑनर्स बोर्ड में अपना नाम दर्ज कराने के लिए सोच रहा था।'

"ईमानदारी से कहूं तो मैं अगले दिन एक और विकेट प्राप्त करना की सोच रहा था। लेकिन अगले दिन मेरे दिमाग में मैदान पर गेंद को नियंत्रित करने का विचार चल रहा था, जैसे ही मैंने इस ओर अपना ध्यान केंद्रित किया, एक पर एक विकेट मेरे खाते में जुड़ते गए।"

33 साल के इस खिलाड़ी को जब नौवां विकेट मिला तो उनके दिमाग में एक और विकेट लेने की संभावना चलने लगी। उन्होंने कहा "जब तक हमने यहां नौवा विकेट नहीं लिया था तब तक मेरे दिमाग में यह दस विकेट लेने के बारे में कोई विचार नहीं चल रहा था। लेकिन जब मैंने नौवां विकेट लिया तब मैंने स्कोरबोर्ड को देखा और मेरा दिमाग एक और विकेट लेने की सोचने लगा।

Also Read: Ashes 2021-22 - England vs Australia Schedule and Squads

पटेल ने यह कहते हुए बताया 'वह बहुत घबराए हुए थे, जब रचिन रवींद्र मेरे दसवें विकेट को पूरा करने के लिए मोहम्मद सिराज का मिड-ऑन पर कैच लेने की कोशिश कर रहे थे। मैं उस ऊंची गेंद के लिए काफी नर्वस था, लेकिन रचिन (रवींद्र) ने एक अद्भुत कैच लपक लिया और दस विकेट के साथ यह दिन मेरे लिए खास बन गया। इस दिन को विशेष बनाने के लिए टीम ने पूरा सहयोग दिया जिनका मैं आभारी हूं।'

IB

Win Big, Make Your Cricket Prediction Now