X close
X close
Indibet

वो 3 खिलाड़ी जिन्हें खरीदना दिल्ली कैपिटल्स के लिए पड़ा बहुत महंगा

Shubham Shah
By Shubham Shah
November 10, 2020 • 17:10 PM View: 2682

10 नवंबर को दिल्ली कैपिटल्स और मुंबई इंडियंस के बीच आईपीएल के 13वें सीजन का फाइनल मुकाबला दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में खेला जाएगा। दिल्ली की टीम ने इस साल बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए इस लोकप्रिय टी-20 लीग के फाइनल में पहली बार जगह बनाई है और इस बार वो आईपीएल खिताब अपने नाम करने की पूरी कोशिश करेंगे। 

हालांकि इन सब के बावजूद दिल्ली की टीम में कुछ ऐसे खिलाड़ी रहे जिन्हें मैनेजमेंट ने बड़ी उम्मीदों के साथ खरीदा लेकिन वो अपने प्रदर्शन से अपने फैंस को खुश नहीं कर पाए। आज हम बात करेंगे दिल्ली कैपिटल्स के उन तीन खिलाड़ियों की जिन्होंने अपने प्रदर्शन से टीम मैनेजमेंट को निराश किया है। 

Trending



अजिंक्या रहाणे - दिल्ली की टीम ने अजिंक्या रहाणे को इस बार 5.25 करोड़ रूपए में खरीदा था और सभी को उम्मीद थी की यह बल्लेबाज अपने अनुभव से टीम को फायदा पहुंचाएगा।  लेकिन इस पूरे टूर्नामेंट में रहाणे ने जिस तरह की बल्लेबाजी की है वो कही से भी सराहनीय नहीं है और हो सकता है की दिल्ली कैपिटल्स की टीम अगले साल इस बड़े बल्लेबाज को टीम से बाहर का रास्ता दिखा दे।
रहाणे ने इस साल कुल 8 मैच खेले है जिसमें वो केवल 111 रन ही बना पाएं है। इस दौरान इन्होंने केवल एक अर्धशतक जमाया है जो आरसीबी के खिलाफ आया है। आईपीएल 2020 में रहाणे का बल्लेबाजी औसत 15.85 रहा है और इनका उच्चतम स्कोर 60 रनों का रहा है। 


 

शिमरोन हेटमायर - वेस्टइंडीज के बाएं हाथ के युवा बल्लेबाज शिमरोन हेटमायर ने आईपीएल नीलामी में सबकों चौंकाते हुए दिल्ली की टीम से कुल 7.75 रूपए कमाए। हालांकि यह विस्फोटक बल्लेबाज अपनी टीम के लिए कुछ खास कमाल नहीं कर पाए और 11 मैचों में इनके बल्ले से केवल 180 रन ही निकले है। इस दौरान इनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 45 रनों का रहा है और औसत 25.71 की रही है। अब ये देखना दिलचस्प होगा कि आईपीएल के अगले सीजन में दिल्ली की टीम इस बल्लेबाज को रखती है या रिलीज करती है। 


 

डेनियल सैम्स - ऑस्ट्रेलिया के ऑलराउडंर डेनियल सैम्स को दिल्ली की टीम में जेसन रॉय की जगह शामिल किया गया था। टूर्नामेंट के दूसरे हाफ में सैम्स को कुछ मैचों में मौका जरूर मिला लेकिन वो ना तो बल्लेबाजी में रन बना पाए और नाहीं वो एक भी विकेट हासिल कर पाए। 
सैम्स ने इस साल दिल्ली कैपिटल्स के लिए कुल 3 मैच खेले जिसमें उनके बल्ले से एक भी रन नहीं निकले। गेंदबाजी में भी इस गेंदबाज ने सबको निराश किया और उनके खाते में एक भी विकेट नहीं आए। ये कहना मुश्किल नहीं होगा कि दिल्ली की टीम अगले साल होने वाले आईपीएल में इस ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर को शामिल करने में के बारे में शायद ही ख्याल करे। 

 
     


 
Article