X close
X close

India vs Australia: टिम पेन ने कहा, विराट कोहली को बल्लेबाजी करते देखना पसंद, लेकिन रन बनाते नहीं

By IANS News
Nov 15, 2020 • 16:12 PM

ऑस्ट्रेलिया के टेस्ट कप्तान टिन पेन (Tim Paine) ने कहा है कि उनके देश में भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) को भी अन्य क्रिकेटरों की तरह ही देखा जाता है। पेन ने साथ ही कहा कि कोहली उनमें से एक हैं, जिनसे ऑस्ट्रेलियाई लोग नफरत करते हैं, लेकिन बतौर फैन लोग कोहली को बल्लेबाजी करते देखना पसंद करते हैं, लेकिन हम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उन्हें रन बनाते नहीं देखना चाहते।

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भारत को 27 नवंबर से तीन वनडे, तीन टी-20 और चार मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है। कोहली जहां, सीमित ओवरों की सीरीज और पहले टेस्ट में टीम की कप्तानी करेंगे तो वहीं पेन चार मैचों की टेस्ट सीरीज में ऑस्ट्रेलियाई टीम की कप्तानी करेंगे।

Also Read: IPL 2021 से पहले मैक्सवेल और शेल्डन कॉटरेल को टीम से बाहर कर दे पंजाब की टीम, आकाश चोपड़ा ने दिया बड़ा बयान

पेन ने एबीसी स्पोटर्स से कहा, " मुझसे विराट कोहली के बारे में काफी सवाल पूछे जाते हैं, लेकिन वह मेरे लिए वैसे ही जैसे कि बाकी खिलाड़ी हैं। मेरा उनके साथ कोई वैसा रिश्ता नहीं है। मैं उनसे टॉस के दौरान मिलता हूं और उनके खिलाफ मैदान पर खेलता हूं। बस इससे ज्यादा कुछ भी नहीं है।"

उन्होंने कहा, " विराट के साथ बहुत ही अच्छी बात यह है कि हम उनसे नफरत करना पसंद करते हैं लेकिन एक क्रिकेट फैन के तौर पर उनको बल्लेबाजी करते हुए देखना भी पसंद करते हैं। हम उनको बल्लेबाजी करते हुए देखना तो पसंद करते हैं लेकिन उनको ज्यादा रन बनाते हुए देखना नहीं चाहते हैं।"

पेन ने साथ ही यह भी स्पष्ट किया कि उनकी टीम कोहली के साथ किसी तरह के विवाद में नहीं पड़ना पड़ना चाहती है और मैदान पर वे वैसा ही करेंगे।

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने कहा, " भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच एक नफरत भरी प्रतियोगिता होती है। वो वाकई में एक प्रतिस्पर्धा करने वाले इंसान हैं और मैं भी ऐसा ही हूं। कई ऐसे मौके आए हैं जब हमारे बीच बातें भी हुई लेकिन ऐसी इसलिए नहीं कि वो कप्तान थे या फिर मैं टीम की कप्तानी कर रहा था यह तो किसी के भी साथ हो सकता है।"

पेन ने आगे कहा, " उस समय ज्यादा टेंशन होती है, जब उनकी तरह का एक बेहतरीन खिलाड़ी हो। यह बिल्कुल वैसे ही है जैसा कि इंग्लैंड के खिलाफ खेलने पर रहता है। वहां जोए रूट और बेन स्टोक्स होते हैं। बढ़िया खिलाड़ी वही है, जिसकी वजह से टीम के प्रदर्शन ऊपर उठे।"