X close
X close

डी विलियर्स को नंबर 6 पर भेजने पर विराट कोहली पर भड़के केविन पीटरसन, कहा 15 साल से खेल रहे हैं 

By IANS News
Oct 16, 2020 • 15:19 PM

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के कप्तान विराट कोहली के किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ खेले गए मैच में अब्राहम डी विलियर्स को नंबर-6 पर भेजने के भेजने की काफी आलोचना हो रही है। इस मैच में पंजाब ने बेंगलोर को आठ विकेटों से हरा दिया था।

डी विलियर्स ने पंजाब के खिलाफ मैच से पहले कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ मुश्किल पिच पर 33 गेंदों पर नाबाद 73 रनों की पारी खेली थी। लेकिन पंजाब के खिलाफ उनसे पहले वॉशिंगटन सुंदर और शिवम दुबे को भेजा गया था।

Also Read: IPL 2020: दिनेश  कार्तिक ने दिया इस्तीफा, इयोन मोर्गन बनाए गए नाइट राइडर्स के नए कप्तान

पहली पारी के खत्म होने के बाद इंग्लैंड के पूर्व कप्तान केविन पीटरसन ने इस पर सवाल उठाए थे।

पीटरसन ने कहा, "डी विलियर्स 15 साल से क्रिकेट खेल रहे हैं। उन्होंने हर तरह के गेंदबाजों को खेला है। आपके सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज को ज्यादा से ज्यादा गेंदें फेंकनी चाहिए। अगर वो 24-25 गेंदें खेलते, जो उन दो बल्लेबाजों ने खेली, तो जिस गेंद पर वो आउट हुए वो मैदान के बाहर जाती।"

डी विलियर्स छठे नंबर पर खेलने आए और सिर्फ दो रन बना सके।

कॉमेंट्री के दौरान भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने कहा, "दुबे ने 10 गेंदों पर आठ रन बनाए। उन्होंने डी विलियर्स से दो ओवर ले लिए।"

भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज आकाश चोपड़ा ने अपने यूट्यूब पर कहा, "डी विलियर्स को रोक सुंदर और दुबे को भेजना अजीब फैसला था।"

मैच के बाद हालांकि कोहली ने कहा था कि यह फैसला दाएं-हाथ के संयोजन को बनाए रखने के लिए लिया गया था।

कोहली ने मैच के बाद कहा था, "हमने बात की थी। बाहर से यह संदेश आया था कि बाएं-दाएं हाथ के संयोजन को बनाए रखा जाए क्योंकि उनके पास दो लेग स्पिनर थे। कई बार आपके फैसले काम नहीं आते लेकिन यह होता है। हमने जो फैसला लिया उससे हम खुश हैं।"

कोहली ने कहा कि वो चाहते थे कि सुंदर और दुबे लंबे शॉट्स के लिए जाएं।

कोहली ने कहा, "यही सोच थी। अपनी आंखें जमाएं और बड़े शॉट्स खेलें, लेकिन हम उन पर दबाव नहीं डाल सके।"