X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

वर्ल्ड कप-2019 का विजेता का नाम लेना इस महान दिग्गज के लिए हुआ मुश्किल, कारण हैरान करने वाला

by Vishal Bhagat Jan 31, 2019 • 17:59 PM

गुरुग्राम, 31 जनवरी | इंग्लैंड एवं वेल्स में इसी साल होने वाले आईसीसी विश्व कप-2019 के शुरू होने में मुश्किल से पांच माह का समय शेष रह गया है और इसके सम्भावित विजेता को लेकर अटकलें पहले ही शुरू हो गई हैं। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डेविड रिचर्डसन ने गुरुवार को कहा कि इस विश्व कप की विजेता टीम का चयन बेहद ही मुश्किल है। 

रिचर्डसन का कहना है कि वह इस टूर्नामेंट में भारत और मेजबान इंग्लैंड दोनों का ही समर्थन करते हैं। यहां कोका-कोला के साथ हुई पांच साल की साझेदारी की घोषणा के दौरान रिचर्डसन ने विश्व कप ट्रॉफी का भी अनावरण किया। उन्होंने हाल ही में दक्षिण अफ्रीका के प्रदर्शन को भी सराहा। 

रिचर्डसन ने कहा, "एक विजेता टीम का चयन करना बेहद मुश्किल है। निश्चित तौर पर भारत बेहतरीन प्रदर्शन कर रहा है। इंग्लैंड के पास उसकी सबसे बेहतरीन वनडे टीम है। इसके अलावा, दक्षिण अफ्रीका भी शानदार प्रदर्शन कर रही है। हालांकि, हाल ही के वर्षो में भारतीय टीम ने जो विकास किया है उसमें उसे हरा पाना बेहद मुश्किल है।"

हाल ही में आईसीसी ने टी-20 विश्व कप के लिए टीमों के ड्रॉ की घोषणा की। इसमें चिर प्रतिद्वंद्वी टीमों भारत और पाकिस्तान को 2011 के बाद पहली बार दो अलग-अलग समूहों में रखा गया है। 

इस पर रिचर्डसन ने कहा, "हमने ग्रुप को रैंकिंग के हिसाब से विभाजित किया है। हमारे पास कई रणनीतियां हैं, जिसमें से एक 'स्नेक मैथड' भी है। रैंकिंग के हिसाब से विभाजित टीमें उसी अनुसार एक-दूसरे से भिड़ेंगी। भारत और पाकिस्तान की बात की जाए, तो पाकिस्तान रैंकिंग में पहले और भारत दूसरे स्थान पर है ऐसे में हर कोई दोनों को भिड़ते हुए देखना चाहता है। इसीलिए, दोनों ग्रुपों की विश्वसनीयता और अखंडता को बनाए रखने के लिए दोनों को अलग-अलग समुहों में रखा गया है। आशा है दोनों सेमीफाइनल या फाइनल में आमने-सामने हों।"

इस जुलाई में आईसीसी के मुख्य कार्यकारी पद से हटने वाले रिचर्डसन ने कहा कि वह भारतीय टीम को यह समझाने में काफी समय लगा कि निर्णय समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) एक अच्छी चीज है।