X close
X close

क्या है ये राउंड बॉटम बैट और इसके फायदे? धोनी ने दी पांड्या और पंत को ये बल्ला इस्तेमाल करने की सलाह

एमएस धोनी अक्सर किसी ना किसी वजह के चलते सुर्खियों में रहते हैं और अब एक बार फिर से वो लाइमलाइट में आ गए हैं और इसके पीछे की वजह बेहद ही दिलचस्प है।

Shubham Yadav
By Shubham Yadav October 29, 2022 • 14:48 PM

एमएस धोनी एक ऐसा नाम, जो बेशक अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से दूर हो गया है लेकिन इसके बावजूद वो अक्सर लाइमलाइट में बने रहते हैं। माही एक बार फिर से सुर्खियों में हैं और वजह बेहद ही दिलचस्प है। द टाइम्स ऑफ इंडिया (टीओआई) की एक रिपोर्ट के अनुसार, टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और महान फिनिशर एमएस धोनी ने हार्दिक पांड्या और ऋषभ पंत जैसे स्टार खिलाड़ियों को राउंड बॉटम बैट के साथ खेलने की सलाही दी है।

माही पिछले साल यूएई में खेले गए टी 20 विश्व कप के दौरान भारतीय टीम के मेंटर थे और उसके बाद भी वो लगातार युवा खिलाड़ियों के साथ संपर्क में बने हुए हैं। हम सब जानते हैं कि एमएस धोनी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेलते वक्त और आईपीएल के दौरान भी बेहतर तरीके से पावर-हिटिंग के लिए वो राउंड बॉटम बैट का इस्तेमाल करते थे और अब माही ने भारतीय खिलाड़ियों को भी डेथ में हिटिंग करने के लिए इसी बैट का इस्तेमाल करने की सलाह दी है।

Trending


हार्दिक और पंत के पास उनके बल्ले निर्माता के रूप में सैंसपैरिल्स ग्रीनलैंड्स (एसजी) मौजूद है और टी-20 फॉर्मैट में अपनी बल्लेबाजी में सुधार करने के लिए एसजी को राउंड बॉटम बैट बनाने के लिए कहा गया है। इस खबर पर और ज्यादा जानकारी देते हुए एसजी के प्रबंध निदेशक (एमडी) पारस आनंद ने टीओआई से बात करते हुए कहा, 'ये एमएस धोनी थे जिन्होंने 2019 विश्व कप से पहले इस तरह के बल्ले का इस्तेमाल करना शुरू किया था और अब ये भारतीय खिलाड़ी इस तरह के बल्ले की मांग करने लगे हैं। खिलाड़ियों का दावा है कि ये बल्ला उन्हें मैदान के सभी दिशाओं में शॉट मारने में मदद करता है।'

क्या होता है राउंड बॉटम बैट ?

Also Read: Today Live Match Scorecard

अगर आप भी इस राउंड बॉटम बैट के बारे में ज्यादा नहीं जानते हैं तो आपको हम बताते हैं। अगर इस बल्ले के फायदे की बात करें तो राउंड बॉटम बैट का जो बेस होता है वो नॉर्मल बल्ले के मुकाबले थोड़ा मोटा होता है और इसी मोटे बेस के कारण बल्लेबाज़ को यॉर्कर गेंदों को खेलने में थोड़ी आसानी होती है। इतना ही नहीं, इस बल्ले से बल्लेबाजों को बैट स्विंग और गेंद को जल्दी पिकअप करने में भी मदद मिलती है। आप कह सकते हैं कि इस तरह का बैट बेस बॉल के बैट जैसा स्ट्रोक प्रदान करता है।