X close
X close
Indibet

WTC 2021-2023 : भारत को 19 , ऑस्ट्रेलिया को 18 मैच ; जानें कौन सी टीम खेलेगी सबसे ज्यादा मुकाबला

Shubham Shah
By Shubham Shah
June 30, 2021 • 12:07 PM View: 403

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के पहले संस्करण में न्यूजीलैंड की टीम ने भारत को 8 विकेट से हराते हुए इस खिताब हर कब्जा किया। अब वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का दूसरा दौर 2021 से लेकर 2023 तक चलेगा। ऐसे में एक नजर डालते हैं कि कौन सी टीम को कितने मैचों में खेलना का मौका मिलेगा।

इंग्लैंड - वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के दूसरे संस्करण में इंग्लैंड की टीम को सबसे ज्यादा 21 मैच खेलने को मौका मिलेगा। इसकी शुरूआत इंग्लैंड की टीम भारत के खिलाफ 5 मैचों की टेस्ट सीरीज के साथ करेगी। वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के प्वाइंट्स टेबल में इंग्लैंड की टीम का स्थान चौथा रहा था।

Trending



भारत - विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के दूसरे संस्करण में 19 मैच खेलेगी। भारतीय टीम अपने इस सफर की शुरुआत इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज के साथ करेगी। न्यूजीलैंड के सामने भारत को फाइनल में 8 विकेट से हार मिली थी।


ऑस्ट्रेलिया - पिछली पॉइंट्स टेबल में तीसरे स्थान पर रहने वाली ऑस्ट्रेलिया इस बार वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में कुल 18 मुकाबले खेलेगी। कंगारूओं के कप्तान अभी टिम पेन ही हैं हालांकि मैनेजमेंट उनकी जगह किसी और को टीम की कमान सौंप सकती है। इस रेस में पैट कमिंस सबसे आगे है।


साउथ अफ्रीका - 2019-2021 वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में साउथ अफ्रीका की टीम सातवें स्थान पर रही थी। इस बार वह अपने प्रदर्शन में सुधार करना चाहेंगे और उनको इस संस्करण में 15 मैच मिले हैं।


पाकिस्तान - पाकिस्तान की टीम ने पिछले वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के संस्करण में 12 मैच खेले थे। हालांकि इस बार उन्हें 14 मैचों में खेलने का मौका मिलेगा। पीछली बार इस वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के प्वाइंट्स टेबल में पांचवें स्थान पर काबिज थे।


न्यूजीलैंड - वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के पहले संस्करण की विजेता न्यूजीलैंड की टीम इस संस्करण में कुल 13 मैच खेलेगी। पिछली बार उनको उनको 11 मैचों में खेलने का मौका मिला था और वो प्वाइंट्स टेबल में भारत के बाद दूसरे स्थान पर मौजूद थे।


वेस्टइंडीज - वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के पहले संस्करण में प्वाइंट्स टेबल में छठे स्थान पर रहने वाली वेस्टइंडीज की टीम इस बार कुल 13 मुकाबले खेलेगी।


श्रीलंका - पिछले संस्करण की सबसे लचर टीमों में से एक श्रीलंका को इस बार कुल 13 मुकाबलें खेलने हैं। पिछली बार श्रीलंका के खिलाड़ी प्वाइंट्स टेबल में आठवें स्थान पर थे जहां उन्हें कुल 12 मुकाबले में भागीदारी का मौका मिला था।


बांग्लादेश - वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के पहले संस्करण में सबसे नीचे रहने वाली बांग्लादेश की टीम को इस बार कुल 12 मुकाबले मिले हैं। पिछली बार उन्हें केवल 7 मैचों में खेलने का मिला था।


Win Big, Make Your Cricket Prediction Now

Koo