X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

IPL 2019: नए नाम के साथ किस्मत बदलने उतरेगी दिल्ली कैपिटल्स,जानें रिकॉर्ड और कितनी मजबूत है टीम

by Saurabh Sharma Mar 16, 2019 • 12:33 PM

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के बीते सीजनों में अपनी असफलता के लिए प्रख्यात दिल्ली फ्रेंचाइजी आगामी 12वें संस्करण में नए नाम, नई जर्सी के साथ उतर रही है और इस बार इसकी पूरी कोशिश एक दशक पुराने इतिहास को बदल विजेता का तमगा हासिल करने की होगी। 

लीग की शुरुआत से पिछले सीजन तक यह टीम दिल्ली डेयरडेविल्स के नाम खेल रही थी। लेकिन पिछले साल दिसंबर में ही टीम ने अपना नाम बदलकर 'दिल्ली कैपिटल्स' रखा है। 

टीम की नई जर्सी लाल और नीले रंग की है। दिल्ली ने 2019 सीजन के लिए 14 खिलाड़ियों को रिटेन किया है और शिखर धवन को सनराजर्स हैदराबाद से अपनी टीम में खरीदा है। दिल्ली ने जिन 14 खिलाड़ियों को रिटेन किया है, उनमें श्रेयस अय्यर, ऋषभ पंत, पृथ्वी शॉ, अमित मिश्रा, आवेश खान, हर्षल पटेल, राहुल तेवतिया, जयंत यादव, मनजोत कालरा, कॉलिन मुनरो, ट्रैंट बाउल्ट, क्रिस मौरिस, कागिसो रबाडा और संदीप लामिछाने शामिल हैं। 

हालांकि अब यह देखना काफी दिलचस्प होगा कि क्या टीम नाम बदलने के अलावा अपने प्रदर्शन और रुतबे को भी बदल पाएगी या नहीं। 

आईपीएल के इतिहास में दिल्ली अब तक सिर्फ एक बार (2012 में) ही प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई कर पाई है। शुरुआती कुछ संस्करणों में टीम ने गौतम गंभीर, वीरेंद्र सहवाग, अब्राहम डिविलियर्स, डेनियल विटोरी और अमित मिश्रा जैसे दिग्गजों के दम पर अच्छा प्रदर्शन किया था, लेकिन जैसे-जैसे सीजन गुजरते गए दिल्ली ज्यादातर तालिका में निचले स्थान पर ही रहती गई। 

इस सीजन दिल्ली ने अपने पुराने खिलाड़ी धवन को एक बार फिर अपनी टीम में शामिल किया है। धवन ने हैदराबाद को विजेता बनाने में अहम भूमिका निभाई थी। दिल्ली के प्रबंधन को उम्मीद होगी कि धवन पिछली टीम की सफलता को यहां भी दोहरा पाएंगे। 

बीते सीजन दिल्ली नो दो बार कोलकाता नाइट राइडर्स को खिताब दिलाने वाले कप्तान गौतम गंभीर को टीम में शामिल किया था, लेकिन वह असरदार नहीं रहे थे और बीच में ही उन्होंन कप्तानी छोड़ दी थी। तब श्रेयस अय्यर को कमान सौंपी गई थी। इस सीजन टीम प्रबंधन ने कप्तान के नाम का ऐलान नहीं किया, लेकिन धवन की वापसी से उम्मीद है कि वह ही कप्तानी करेंगे।

ऐसा नहीं है कि दिल्ली के पास प्रतिभा की कमी है। उसके पास पृथ्वी शॉ और ऋषभ पंत जैसे बेहतरीन युवा खिलाड़ी हैं। पंत ने दिल्ली के लिए बीते सीजनों में बेहतरीन बल्लेबाजी की है और शॉ पिछले सीजन आईपीएल में पहली बार दिल्ली के साथ कदम रखा था और धमाल मचाया था। इन दोनों से इस सीजन भी इसी प्रदर्शन की उम्मीद होगी। 

दिल्ली कैपिटल्स ने आगामी सीजन के लिए अपने मध्यक्रम को मजबूत करने की कोशिश की है। इसी के परिणामस्वरूप उसने दक्षिण अफ्रीका के कॉलिन इंग्राम को 6.4 करोड़ रुपये की राशि में खरीदा है। इंग्राम के अलावा टीम के पास अय्यर, क्रिस मौरिस हैं, लेकिन मध्यक्रम में उसके पास इन खिलाड़ियों के विकल्प की कमी दिखती है। मध्यक्रम में दिल्ली को सावधानी से खेलने की जरूरत होगी। हनुमा विहारी एक खिलाड़ी हैं, लेकिन वह टी-20 के लिए जरूरी आक्रामकता पर कितना खरा उतर पाते हैं यह देखना होगा। 

दिल्ली की गेंदबाजी हालांकि काफी मजबूत है। तेज गेंदबाज इशांत शर्मा (1.10 करोड़) इस सीजन दिल्ली से खेलते नजर आएंगे। उनके अलावा दिल्ली के पास ट्रैंट बाउल्ट, कागिसो रबाडा, कीमो पॉल हैं। आवेश खान और हर्षल पटेल बीते सीजन भी टीम के साथ थे और अपने प्रदर्शन से प्रभावित करने में सफल रहे थे। 

अपने हरफनमौला खिलाड़ियों को सूची को मजबूत करने के लिए दिल्ली ने अक्षर पटेल को पांच करोड़ में शामिल किया। वहीं जलज सक्सेना पर भी दिल्ली ने दांव खेला है।

जलज में प्रतिभा है लेकिन आईपीएल जैसे बड़े मंच पर वह कारगार साबित होते हैं या नहीं देखना होगा। जयंत यादव हरफनमौला खिलाड़ियों की सूची में एक और नाम हैं। जयंत को भी दिल्ली ने रिटेन किया है। 

स्पिन विभाग में अमित मिश्रा, राहुल तेवतिया, संदीप लामिछाने टीम के पास हैं। अमित लगातार दिल्ली से खेलते आए हैं और आईपीएल में सफल स्पिन गेंदबाजों में उनकी गिनती होती है। संदीप बीते सीजन बी टीम में आए थे। उन्होंने अपनी फिरकी से बाकी टी-20 लीगों में सभी को प्रभावित किया है। इस बार वह दिल्ली के लिए तुरुप का इक्का साबित हो सकते हैं। 

दिल्ली ने पिछले संस्करण में 14 मैचों में नौ हारे थे और टीम तालिका में सबसे नीचे रही थी। 23 मार्च से शुरू हो रहे लीग के 12वें संस्करण में दिल्ली कैपिटल्स को अपना पहला मुकाबला 24 मार्च को मुंबई इंडियंस से खेलना है। 

टीम : कोलिन मुनरो, शिखर धवन, पृथ्वी शॉ, मनजोत कालरा, श्रेयस अय्यर, हनुमा विहारी, कोलिन इंग्राम, ऋषभ पंत, अंकुश बैंस, क्रिस मौरिस, जलज सक्सेना, अक्षर पटेल, बंदारू अयप्पा, सेरफाने रथरफोर्ड, अमित मिश्रा, राहुल तेवतिया, संदीम लामिछाने, हर्ष पटेल, कागिसो रबादा, आवेश खान, ट्रैंट बाउल्ट, ईशांत शर्मा, कीमो पॉल, नाथू सिंह।