X close
X close

चेन्नइयन का लक्ष्य मुम्बई सिटी के खिलाफ सत्र की पहली घरेलू जीत हासिल करना

चेन्नइयन एफसी हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) 2022-23 में अपनी पहली घरेलू जीत की तलाश में खेलेगी, जब मरीना मचान्स शनिवार को अपने घरेलू मैदान जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में अपराजित चल रहे मुम्बई सिटी एफसी की मेजबानी करेंगे।...

IANS News
By IANS News November 12, 2022 • 10:57 AM
चेन्नइयन का लक्ष्य मुम्बई सिटी के खिलाफ सत्र की पहली घरेलू जीत हासिल करना
Image Source: Google

चेन्नइयन एफसी हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) 2022-23 में अपनी पहली घरेलू जीत की तलाश में खेलेगी, जब मरीना मचान्स शनिवार को अपने घरेलू मैदान जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में अपराजित चल रहे मुम्बई सिटी एफसी की मेजबानी करेंगे। आइलैंडर्स को इस मैच में जीत मौजूदा चैम्पियन हैदराबाद एफसी से चार अंक पीछे दूसरे स्थान पर वापस ला देगी। दूसरी ओर, मरीना मचान्स जीत से एटीके मोहन बागान के बराबर अंक पाकर तीसरे स्थान पर पहुंच जाएंगे।

अपने पिछले मैच में चेन्नइयन एफसी ने ईस्ट बंगाल एफसी को 1-0 से हराया और सीजन की अपनी पहली क्लीन शीट पर हासिल की थी। हालांकि, मरीना मचान्स ने अब तक चार मैचों में चार गोल खाए हैं। दिलचस्प बात यह है कि इनमें से तीन आधे घंटे से पहले खाए हैं, जो दर्शाता है कि पहले हाफ में उनका डिफेंस काफी कमजोर रहता है।

ईरानी डिफेंडर वफा हखामनेशी ने पिछले मैच में रेड कार्ड देखकर अपने माचिर्ंग ऑर्डर प्राप्त करने से पहले विजयी गोल दागा था। इस सेंटर-बैक ने अब तक मरीना मचान्स के लिए सभी मैचों में शुरूआत की हैं और मुम्बई के खिलाफ चेन्नइयन के मुख्य कोच थॉमस ब्रैडरिक को उनकी गैरमौजूदगी खलेगी। लिहाजा, कोच ब्रैडरिक को इस सीजन में पहली बार एक नए रक्षात्मक संयोजन के साथ मैच की शुरूआत करने के लिए मजबूर होना पड़ेगा।

ब्रैडरिक ने कहा, "मुम्बई सिटी एफसी एक बड़ा क्लब है, और उनके खिलाफ खेलना सम्मान की बात है। मेरे कुछ लक्ष्य हैं जबकि उनका लक्ष्य चैम्पियनशिप है। हमें सबसे पहले यह समझने की जरूरत है कि उनकी ताकत और क्षमताओं के मुताबिक उनके खिलाफ कैसे खेलना है।" उन्होंने कहा, "हमने उनका विश्लेषण किया है और अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश करेंगे।"

मुम्बई सिटी एफसी को सीजन का तीसरा ड्रा खेलना पड़ा, जब पिछले मैच में आइलैंडर्स को एटीके मोहन बागान ने बराबरी पर रोक दिया। आइलैंडर्स ने अब तक खेले अपने पांच मैचों में दस गोल किए हैं। इनमें से आधे गोल पहले हाफ में आए हैं। लिहाजा, शुरूआती 30 मिनट में गोल खाने का सिलसिला चेन्नइयन को थोड़ी चिंता में जरूर डालेगा।

मुख्य कोच डेस बकिंघम इस सीजन में अब तक अपनी टीम के निरंतर प्रदर्शन से खुश हैं। अंग्रेज कोच को एक ही टीम फॉर्मेशन पर टिके रहने और अपने शुरूआती एकादश में बहुत कम या बिना किसी बदलाव के मैदान पर उतरने से मदद मिली है। शनिवार को मरीना मचान्स के खिलाफ आइलैंडर्स के अपने पिछले शुरूआती ग्यारह को मैदान पर उतारने की संभावना है।

बकिंघम ने कहा, "हमने सीजन की शुरूआत अच्छी की है। हम पांच मैचों अभी भी अपराजित रहे हैं। लेकिन इससे भी महत्वपूर्ण बात यह है कि हमने अब तक खेले गए अपने हर मुकाबले के साथ अधिक निरंतरता दिखाई है और लगातार सुधार किया है। मुझे लगता है कि एटीके मोहन बागान के खिलाफ मैच में यह स्पष्ट नजर आया था।" उन्होंने कहा, "अगर हम ऐसा करना जारी रख सके हैं, तो हम खुद को उस स्थिति में पहुंचा सकते हैं जो हम सभी सीजन के अंत में चाहते हैं।"

Also Read: क्रिकेट के दिलचस्प किस्से

दोनों टीमें 16 बार आमने-सामने हो चुकी हैं। मरीना मचान्स ने छह गेम जीते हैं जबकि आइलैंडर्स सात मौकों पर विजयी हुए हैं। दोनों के बीच केवल तीन मैच ड्रा पर समाप्त हुए हैं। पिछले सीजन में मुम्बई सिटी एफसी ने चेन्नइयन एफसी पर दो 1-0 से जीत हासिल करके डबल पूरा किया था।


TAGS