X close
X close
Indibet

AUS vs IND: एडिलेड टेस्ट में हार के बाद क्या भारत का होगा सूपड़ा साफ? जानें पूरे विश्लेषण

IANS News
By IANS News
December 19, 2020 • 17:33 PM View: 332

पहले टेस्ट मैच में कंगारूओं के हाथों अचानक धराशायी होने के बाद अब यह सवाल उठने लगा है कि इस हार के बाद क्या भारतीय टीम चार मैचों की टेस्ट सीरीज (बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी) बचा पाएगी? एडिलेड ओवल मैदान पर खेले गए पहले टेस्ट मैच के तीसरे दिन शनिवार को ही मेजबान आस्ट्रेलिया ने भारत को आठ विकेट से हराकर चार मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त ले ली है। गुलाबी गेंद से खेला गया यह डे-नाइट टेस्ट मैच भारत के लिए भूलने वाला रहा।

टेस्ट इतिहास में यह 35वीं बार है जब भारत ने एशिया के बाहर दो या उससे ज्यादा के मैचों की टेस्ट सीरीज में पहला मैच गंवाया है। इन 35 मौकों पर जब भी भारत पहला टेस्ट मैच हारा है, तो 31 बार उसे सीरीज गंवानी पड़ी है और इनमें से केवल तीन बार ही भारतीय टीम सीरीज ड्रॉ कराने में कामयाब रही है।

Trending


भारत ने 1980-81 में पहला टेस्ट मैच हारने के बाद भी आस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज 1-1 से ड्रॉ कराई थी। इसके अलावा उसने 2002 में भी इंग्लैंड के खिलाफ पहला टेस्ट गंवाने के बाद सीरीज ड्रॉ कराई थी।

टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में भारत ने तीसरी बार 2010-2011 में उस समय सीरीज ड्रॉ कराई थी, जब दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ उसे सीरीज के पहले टेस्ट में शिकस्त खानी पड़ी थी।

भारत ने 2018-19 में जब आस्ट्रेलिया का दौरा किया था, तो उसने पहली बार कंगारूओं की सरजमीं पर टेस्ट सीरीज जीती थी। भारत ने विराट कोहली की कप्तानी में चार मैचों की टेस्ट सीरीज 2-1 से अपने नाम की थी। लेकिन इस बार भारत के लिए अपने पिछले दौरे के प्रदर्शन को दोहरा पाना मुश्किल लग रहा है क्योंकि पहले टेस्ट मैच के बाद उसे कुछ सीनियर खिलाड़ी सीरीज के बाकी बचे मैचों में नहीं खेल पाएंगे।

पहला टेस्ट मैच खेलने के बाद कप्तान कोहली अब अपने पहले बच्चे के जन्म के कारण स्वदेश लौट आएंगे और ऐसे में कोहली का अनुभव और आक्रमकता सीरीज के बाकी बचे मैचों में भारत के काम नहीं आए पाएगा।

कोहली ने पहली पारी में 74 रनों की सर्वाधिक पारी खेली थी और अब निश्चित रूप से भारत को कोहली की कमी खलेगी। इस शर्मनाक हार के बाद कोहली अब भारी मन से स्वदेश लौटेंगे।

मेहमान टीम के सीनियर तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी का भी खेलना तय नहीं लग रहा है। शमी चोटिल हो गए हैं जिनके बारे में शाम को सारी जानकारी मिल पाएगी। बल्लेबाजी करते हुए शमी को पैट कमिंस की गेंद दाहिने हाथ की कलाई पर लगी और इसके बाद वह रिटायर्ड हर्ट हो गए थे। उन्होंने फिर गेंदबाजी भी नहीं की।

शमी अगर 26 दिसंबर से शुरू हो रहे बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच में नहीं खेलते हैं तो यह भारत के लिए बहुत बड़ा झटका होगा। जहां कोहली के जाने से अब भारतीय टीम की बल्लेबाजी कमजोर होगी, तो वहीं शमी अगर नहीं खेलते हैं तो भारत की गेंदबाजी पर भी इसका काफी बड़ा असर पड़ेगा।

इन दो सीनियरों की गैर मौजूदगी के अलावा पहला टेस्ट अप्रत्याशित रूप से हारने के अब भारतीय टीम के खिलाड़ियों का मनोबल भी काफी गिरा हुआ है और इससे सीरीज के बाकी बचे मैचों पर भी प्रभाव पड़ेगा।

बेशक, बाकी बचे मैचों के लिए रोहित शर्मा की वापसी हो रही है, लेकिन रोहित लॉकडाउन के बाद से पहली बार अंतर्राष्ट्रीय मैच खेलेंगे। ऐसे में रोहित के लिए अचानक आकर आस्ट्रेलिया की धरती पर रन बनाना आसान नहीं होगा।


 
Article