X close
X close
Indibet

कोच जस्टिन लैंगर के समर्थन में उतरे उस्मान ख्वाजा, कहा-ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को जिम्मेदारी लेनी होगी

IANS News
By IANS News
August 23, 2021 • 14:29 PM View: 579

पाकिस्तानी मूल के ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर उस्मान ख्वाजा (Usman Khawaja) ने कोच जस्टिन लैंगर (Justin Langer)का समर्थन करते हुए कहा है कि खिलाड़ियों को भी देश के निराशाजनक प्रदर्शन के लिए पूरा दोष लैंगर पर डालने की बजाय खुद इस जिम्मेदारी लेने की जरूरत है। 44 टेस्ट खेलने वाले ख्वाजा ने कहा, हर हार के लिए कोच जिम्मेदार नहीं होता है। अगर खिलाड़ी अपना 100 फीसदी नहीं दे रहे हैं तो कोच क्या कर सकता है। ऐसे में खिलाड़ियों को किसी न किसी स्तर पर खराब खेल की जिम्मेदारी लेने की जरूरत है।

कोच लैंगर और क्रिकेटरों के बीच तनाव बढ़ गया और इसी कारण क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) को फौरी तौर पर 18 अगस्त को एक आपातकालीन जूम बैठक आयोजित करने का फैसला करना पड़ा।

Trending


इस बैठक में सीए के सीईओ हॉकले, टेस्ट कप्तान पेन, सीमित ओवरों के कप्तान एरोन फिंच और उपकप्तान पैट कमिंस मौजूद थे।

हॉकले ने उसी दिन लैंगर का समर्थन करते हुए एक बयान जारी किया।

हॉकले ने कहा, इसमें कोई संदेह नहीं है कि सप्ताह उनके (लैंगर) के लिए मुश्किल रहा है, लेकिन जैसा कि मैंने पिछले कुछ दिनों में कहा था। इस बात पर चर्चा करने के लिए कि हम इस क्रिकेट टीम को कहां ले जाना चाहते हैं, हमें लैंगर के विचारों को जानना होगा। हम उनसे क्या उम्मीद करते हैं और वह हमसे क्या उम्मीद करते हैं। टी 20 विश्व कप और एशेज शायद दो सबसे बड़ी चीजें हैं जिनका कोई भी ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट और कोई भी ऑस्ट्रेलियाई कोच हिस्सा बनना चाहता है और हम सभी एक ही पृष्ठ पर हैं।"

ख्वाजा ने कहा कि लैंगर टीम का मार्गदर्शन करने में काफी असहज महसूस कर रहे होंगे।

ख्वाजा ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा, आपको क्या लगता है कि जेएल (जस्टिन लैंगर) को कैसा लगता है? उन्हें शायद ऐसा लगता है कि टीम के लोग उनकी पीठ में छुरा घोंप रहे हैं और यह ऐसा दिखता है और इसलिए यह बहुत निराशाजनक है। यह वास्तव में एक बहुत ही खराब स्थिति है। यह कुछ ऐसा है जिसे जल्द हल करने की आवश्यकता है।"

ख्वाजा ने आगे कहा, वह (लैंगर) एक बहुत ही भावुक व्यक्ति है। ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट से प्यार करते है। सभी के लिए सर्वश्रेष्ठ चाहते है। केवल सफल होना चाहते है। वह जीत से प्रेरित है।

क्रिकेटर ने स्वीकार किया कि लैंगर जब काम की नैतिकता की बात करते हैं तो भावुक हो जाते हैं।

बकौल ख्वाजा, एक चीज जो सामने आती रहती है वह है उनकी भावनाएं। वह बहुत भावुक हो सकते हैं। यह शायद उसका एक नकारात्मक पक्ष है; उनकी सबसे बड़ी कमजोरी उसकी भावना है। वह जानते है कि उन्हें सुधार करने की जरूरत है। यह बात उसने मीडिया में कहा है। मैंने भी उनसे बातचीत की है। 


Win Big, Make Your Cricket Prediction Now

Koo