X close
X close

4 गेंदबाज़ जिन्हें मिलना चाहिए मौका, भुवनेश्वर कुमार का काट सकते हैं पत्ता

टी-20 वर्ल्ड कप 2022 में भुवनेश्वर कुमार ने सिर्फ 4 विकेट चटकाए। सेमीफाइनल मैच में भुवनेश्वर कुमार का प्रदर्शन बेहद खराब है, ऐसे में अब मैनजमेंट उनकी जगह दूसरे गेंदबाज़ों को टीम में मौका दे सकता है।

Nishant Rawat
By Nishant Rawat November 16, 2022 • 19:10 PM

बीता समय भारतीय स्टार गेंदबाज़ भुवनेश्वर कुमार के लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं रहा है। विपक्षी बल्लेबाज़ भुवनेश्वर को टारगेट करके रन बना रहे हैं। टी-20 वर्ल्ड कप 2022 के दौरान भुवी ने 6 मैचों में सिर्फ 4 विकेट चटकाए। बड़े मैच में इंग्लैंड के बल्लेबाज़ों ने उनके खिलाफ 2 ओवर में 25 रन लूटे। ऐसे में आज इस आर्टिकल के जरिए हम आपको बताएंगे उन 4 गेंदबाज़ों के नाम जिन्हें अब भुवनेश्वर कुमार से आगे रखा जाना चाहिए।

टी.नटराजन (T. Natarajan)

Trending


बाएं हाथ के गेंदबाज़ों की कमी इंडियन टीम ने महसूस की है। टी.नटराजन उस कमी को कुछ हद तक कम कर सकते हैं। नटराजन के पास लगातार सटीक यॉर्कर फेंकने की क्षमता है। वह डेथ ओवर्स में भी कारगार गेंदबाज़ी करते हैं।

टी.नटराजन को भुवनेश्वर की जगह टीम में चुना जा सकता है। नटराजन ने टी-20 क्रिकेट में 8.15 की इकोनॉमी से 73 विकेट चटकाए हैं।

दीपक चाहर (Deepak Chahar)

दीपक चाहर भुवनेश्वर कुमार की रिप्लेसमेंट के तौर पर पहली पसंद होंगे, हालांकि बीते समय में भुवी को उनके ऊपर चुना गया है। दीपक चाहर बैट और बॉल दोनों से ही टीम के लिए योगदान कर सकते हैं।

30 वर्षीय दीपक चाहर के पास बॉल को दोनों तरफ हिलाने की क्षमता है। उन्होंने टी-20 क्रिकेट में 7.66 की इकोनॉमी के साथ 137 विकेट चटकाए हैं। आईपीएल में दीपक ने 7.8 की इकोनॉमी से 79 विकेट झटके हैं।

कुलदीप सेन (Kuldeep Sen)

26 वर्षीय कुलदीप सेन भारतीय चयनकर्ताओं की निगाहों में हैं। पिछले आईपीएल में कुलदीप ने बड़े मंच पर 8 विकेट चटकाए थे। इस दाएं हाथ के गेंदबाज़ के नाम फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 52 विकेट दर्ज हैं।

इस भारतीय गेंदबाज़ को न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाली वनडे सीरीज में चुना गया है, ऐसे में वह भविष्य में अपने प्रदर्शन के दम पर भुवनेश्वर कुमार की जगह ले सकते हैं।

उमरान मलिक (Umran Malik)

गन गेंदबाज उमरान मलिक ने अपनी आग उगलती गेंदों के दम पर सभी का दिल जीता है। उमरान लगातार 150 kph की रफ्तार से गेंद फेंकते हैं। भारतीय टीम के पास ऐसे गेंदबाज़ों की कमी हमेशा ही खली है, लेकिन उमरान विपक्षी बल्लेबाज़ों को रफ्तार से परेशान कर सकते हैं।

22 वर्षीय गेंदबाज़ ने 33 टी-20 मुकाबलों में कुल 45 विकेट चटकाए हैं। इस दौरान उमरान का इकोनॉमी 8.92 का रहा है, हालांकि यह उम्मीद है कि वह समय के साथ बेहतर होते रहेंगे।