X close
X close
Indibet

बकवास है डकवर्थ-लुइस नियम: फ्लेमिंग

Saurabh Sharma
By Saurabh Sharma
May 15, 2016 • 19:19 PM View: 991

कोलकाता, 15 मई (CRICKETNMORE): राइजिंग पुणे सुपरजाएंट्स के मुख्य कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने शनिवार को कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ हुए मैच के दौरान इस्तेमाल किए गए डकवर्थ-लुइस नियम को 'बकवास' बताया है। डकवर्थ लुइस नियम क्रिकेट के सीमित मैच के दौरान किसी प्रकार की प्रतिकूल भौगोलिक परिस्थितियोंएवं अन्य स्थितियों में अपनाया जाने वाला नियम है, ताकि मैच अपने निर्णय तक पहुंच सके। इस नियम के तहत घटाए गए ओवरों में नए लक्ष्य निर्धारित किए जाते हैं।

आईपीएल में शनिवार को कोलकाता से हुए मुकाबले में पुणे को सात विकेट से हार का सामना करना पड़ा था।

Trending


पुणे का स्कोर शनिवार रात हुए मुकाबले में 17.4 ओवरों में 103 रनों का था, जब बारिश ने मैच में खलल डाल दी। बारिश के रुकने के बाद अंपायरों ने मैदान का जायजा लिया और डकवर्थ-लुइस नियम को लागू किया। कोलकाता को नौ ओवरों में 66 रनों का संशोधित लक्ष्य मिला। इससे पुणे की संभावनाएं काफी कमजोर पड़ गईं। अंतत: इस लक्ष्य को कोलकाता ने पांच ही ओवरों में आसानी से हासिल कर लिया।

मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में फ्लेमिंग ने कहा, " डकवर्थ-लुइस नियम बकवास है। जब भी यह नियम लागू होता है, मुकाबला खत्म हो जाता है। मैं कई वर्षो से यह बात कह रहा हूं। कुछ अन्य लोगों ने भी यह बात कही है।"

फ्लेमिंग से जब पूछा गया कि क्या अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को इस नियम पर फिर से विचार करने की जरूरत है, तो न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम को पूर्व कप्तान ने कहा, "इस पर विचार-विमर्श की जरूरत है। यह नियम टी-20 खेल के लिए नहीं बना है। यह सच में हास्यास्पद है और जब तक इस बारे में विचार-विमर्श नहीं होगा, तब तक आप यही दुआ करते रहिए कि बादल बरस न पड़ें। "

पुणे के कप्तान महेंद्र सिह धौनी ने 22 गेंदों में केवल नाबाद आठ रन ही बनाए थे। लेकिन, फ्लेमिंग ने उनका बचाव किया।

फ्लेमिंग ने कहा, "पिच काफी सख्त थी और उस पर बल्लेबाजी करना काफी मुश्किल था। हमारा लक्ष्य सकारात्मक खेलने का था, लेकिन गेंद के घूमने के कारण हमने विकेट गंवाए। पीयूष चावला और सुनील नरेन की गेंदबाजी के आगे स्कोर बनाना काफी मुश्किल था।"

न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान ने कहा कि गीली गेंद के खिलाफ बल्लेबाजी करना आसान नहीं था और बारिश के कारण एक अच्छा मुकाबला बर्बाद हो गया। उनके अनुसार टीम का स्कोर 140 तक हो सकता था।

कोलकाता के अंकित राजपूत का यह आईपीएल का पहला मैच था। उन्होंने कहा, "पिच से स्पिन गेंदबाजों को काफी मदद मिल रही थी। इसलिए हमने धौनी भाई के खिलाफ आक्रामक क्षेत्ररक्षण लगाने के बारे में सोचा।"

एजेंसी


Win Big, Make Your Cricket Prediction Now

Koo
TAGS