X close
X close
Indibet

क्रिकेट फैंस के लिए खुशखबरी, ऑस्ट्रेलिया दौरे के बाद एक और डे-नाईट टेस्ट कर रहा है टीम इंडिया का इंतजार

Shubham Sharma
By Shubham Sharma
December 10, 2020 • 15:11 PM View: 340

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज का आगाज़ 17 दिसंबर को एडिलेड में डे-नाईट टेस्ट के साथ होगा। इस डे-नाईट टेस्ट का दुनिया भर के क्रिकेट प्रेमी बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं, लेकिन इसी बीच एक बड़ी खबर सामने आ रही है कि विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया दौरे के बाद एक और डे-नाईट टेस्ट खेलती हुई नजर आएगी।

जी हां, आपको बता दें कि फरवरी महीने में इंग्लैंड की टीम भारत के लंबे दौरे पर आ रही है, जहां पर इंग्लिश टीम चार टेस्ट और पांच टी-20 मैच खेलेगी। टेस्ट सीरीज का एक मुकाबला अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में भी खेला जाएगा। अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में ये मुकाबला 24 फरवरी को खेला जाएगा और खुशी की बात ये है कि भारत और इंग्लैंड के बीच होने वाला ये टेस्ट मैच डे-नाईट होगा, जहां दोनों टीमें गुलाबी गेंद से खेलती हुई नजर आएंगी।

Trending


भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के सचिव जय शाह ने गुरुवार को इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि नवनिर्मित मोटेरा स्टेडियम इंग्लैंड के खिलाफऱ पांच टी 20 मैचों के साथ-साथ चौथे टेस्ट मैच की मेजबानी करेगा।

इंग्लैंड चार मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए भारत का दौरा करने के लिए तैयार है, जो सात फरवरी से शुरू होगी और उसके बाद पांच मैचों की टी 20 सीरीज खेली जाएगी। हालांकि बोर्ड को उम्मीद है कि जल्द ही इस दौैरे के कार्यक्रम की घोषणा कर दी जाएगी। आपको बता दें कि कोलकाता का ईडन गार्डन मैदान पहले टेस्ट की मेजबानी करने के लिए पहली पसंद बना हुआ है।

हालांकि बीसीसीआई प्रमुख सौरव गांगुली ने पहले कहा था कि अहमदाबाद गुलाबी गेंद के टेस्ट की मेजबानी करेगा, बढ़ते हुए COVID-19 मामलों के कारण इस सीरीज पर संदेह था। हालांकि, गुरुवार को अहमदाबाद में स्क्रिबर्स के साथ बातचीत करते हुए, जय शाह ने यह स्पष्ट कर दिया कि यह सीरीज योजना के अनुसार ही होगी।

शाह ने कहा, "टेस्ट सीरीज 7 फरवरी से शुरू होगी और डे-नाईट टेस्ट 24 फरवरी से अहमदाबाद (मोटेरा स्टेडियम में) खेला जाएगा।"

आपको बता दें कि इंग्लैंड की टीम श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज के बाद भारत के दौरे पर पहुंचेगी और इस दौरे की शुरूआत से पहले इंग्लिश टीम को एक सख्त बाय़ो बबल के अंदर रहना होगा।


 
Article