Advertisement
Advertisement
Advertisement

'सौरव गांगुली ऐसा कर रहे हैं तो आप औरों से क्या उम्मीद करेंगे', ड्रीम 11 पर भड़के गौतम गंभीर

भारत में फैंटेसी गेमिंग साइटें काफी ज्यादा पॉपुलर हो रही हैं। इस बीच गौतम गंभीर ने फैंटेसी गेमिंग साइटों का जिक्र करते हुए बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली पर तंज कसा है।

Prabhat  Sharma
By Prabhat Sharma September 21, 2022 • 16:19 PM
Cricket Image for Gautam Gambhir Dig At Sourav Ganguly For Endorsing Fantasy Gaming Sites Dream 11
Cricket Image for Gautam Gambhir Dig At Sourav Ganguly For Endorsing Fantasy Gaming Sites Dream 11 (Gautam Gambhir (image source: google))
Advertisement

पूर्व भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने कहा है कि आईपीएल या अन्य लीग के ज्यादातर विज्ञापन और स्पॉन्सरशिप ड्रीम 11 जैसी फैंटेसी गेमिंग साइटों से ही आती है। गौतम गंभीर ने ये भी कहा है कि बोर्ड को इन साइटों पर बैन लगाने के लिए आवश्यक कदम उठाना ही होगा। इंडियन एक्सप्रेस के साथ बातचीत के दौरान गौतम गंभीर ने कहा, 'अगर बीसीसीआई अध्यक्ष (सौरव गांगुली) ऐसा कर रहे हैं, तो आप अन्य खिलाड़ियों से ऐसा नहीं करने की उम्मीद नहीं कर सकते।' 

गौतम गंभीर ने आगे कहा, 'हमें इसे भारत में पूरी तरह से बैन कर देना चाहिए। यह राज्यवार नहीं हो सकता। किसी को भी इसका सपोर्ट करने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। आईपीएल में, अधिकांश विज्ञापन और स्पॉन्सरशिप ड्रीम 11 जैसे फैटंसी गेमिंग साइटों से ही आता है। यह बीसीसीआई का सामूहिक निर्णय होना चाहिए कि हमें ऐसा होने देना चाहिए या नहीं।'

Trending


यह भी पढ़ें: 3 गेंदबाज जो टी 20 वर्ल्ड कप में फेंक सकते हैं 19वां ओवर, पिट रहे हैं भुवनेश्वकर कुमार

गंभीर ने ये भी कहा कि इस तरह के विज्ञापन के लिए उनसे व्यक्तिगत रूप से कभी संपर्क नहीं किया गया। गौतम गंभीर ने कहा, 'हम बहुत स्पष्ट थे कि हम किसी भी सट्टेबाजी साइट का समर्थन नहीं करने जा रहे हैं।' उन्होंने ये भी कहा कि उन्हें फैंटेसी गेम से कोई समस्या नहीं है जब तक की उसमें नकद पुरस्कार की पेशकश नहीं की जाती। गौतम ने कहा कि तब तक पूरी फैंटेसी गेमिंग बूम ठीक है। 

Also Read: Live Cricket Scorecard

गौतम गंभीर ने कहा, 'मैं फैंटसी गेम को इंडोर्स कर चुका हूं। मैं बहुत स्पष्ट था। हमें एक समय में यह आशंका थी कि हमें ये करना चाहिए या नहीं।' गंभीर ने आगे कहा, 'फैटंसी और सट्टेबाजी शायद थोड़े समान हैं, लेकिन बिल्कुल समान नहीं हैं। जब मैंने फैंटेसी गेम के मालिक से बात की जिसका मैं समर्थन करता हूं, तो मैंने पूछा कि क्या वे कैश प्राइज में भुगतान करते हैं तो उन्होंने कहा कि नहीं, हम नकद में नहीं केवल उपहार और हैम्पर्स ही देते हैं।'


Cricket Scorecard

Advertisement